Yo Diary

शी चिनफिंग दोबारा चुने गए चीन के राष्ट्रपति, संविधान के प्रति निष्ठा का लिया शपथ

बीजिंग (एएफपी)।चीन की संसद ने सर्वसम्मति से शनिवार 17 मार्च को राष्ट्रपति शी जिनपिंग को राष्ट्रपति पद का दूसरा कार्यकाल सौंप दिया। शी चिनफिंग को कम्युनिस्ट पार्टी विधायिका के द्वारा पुनर्निर्वाचित किया गया है।इसके साथ ही चीन में उप राष्ट्रपति का भी चुनाव किया गया जो अमेरिकी व्यापार खतरों से बचाने के लिए शी को मजबूती प्रदान करेंगे। हालांकि गौर करने वाली बात यहां ये थी कि सभी की आंखें इस पर थीं कि शी के विरोधी रहे वांग किशान उप राष्ट्रपति चुने गए।

बताया जाता है कि नेशनल पीपल्स कांग्रेस ने अपने वार्षिक सत्र के दौरान ही शी को राष्ट्रपति पद के लिए नामांकित कर दिया था। पार्टी ने संविधानिक सभा को उनका नाम सौंपकर उन्हें दूसरा पांच वर्षीय कार्यकाल सौंपने की पहल की थी। राष्ट्रपति चुनाव में शी ने 2,970 मतों से जीत हासिल की। इस मौके पर लोगों ने खड़े होकर उनका सम्मान किया। इसके पूर्व 2013 में शी 2,952 मत से जीत हासिल कर राष्ट्रपति बने थे। शी और वांग ने अपनी जीत पर एक दूसरे से हाथ मिलाकर शुभकामनाओं का आदान-प्रदान किया।

संवैधानिक संशोधन के मुताबिक शी और वांग ने पहली बार चीनी संविधान के प्रति निष्ठा का शपथ लिया। इस दौरान शी ने लाल रंग के कवर वाली संविधान की पुस्तक पर अपना बायां हाथ रखकर और दायां हाथ उपर उठाकर अपना शपथग्रहण किया। अनैतिक सेवानिवृत्ति के नियमों के तहत अक्टूबर में कम्युनिस्ट पार्टी की सत्तारूढ़ कौंसिल से 69 वर्षीय वाँग को उनके पद से हटा दिया गया था। लेकिन इसके बाद भी उन्होंने नेशनल पीपल्स कांग्रेस के सार्वजनिक सत्र के दौरान पॉलिट ब्यूरो स्थायी समिति के साथ अपनी पहचान बनाए रखी।

किंग्स कॉलेज लंदन के निदेशक केरी ब्रॉन कहते हैं कि वांग की नियुक्ति दर्शाती है कि वे वास्तव में एक राजनीतिक सलाहकार हैं। वे एक बहुत ही सक्षम राजनीतिज्ञ हैं इसलिए ये देखना बेहद सुखद है कि वे फिर से राजनीति में आए। महत्वपूर्ण बात ये है कि यह चुनाव चीनी राजतीति में बदलाव को दर्शाता है। विश्लेषकों का मानना है कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर व्यापार में चीन की पटकथा में वांग एक महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं।

चीनी विशेषज्ञ हुआ पो का मानना है कि वांग के प्रतिभा और क्षमता के कारण शी उन्हें अपने साथ रख रहे हैं। वांग को उप राष्ट्रपति के रूप में चुनना निश्चित रूप से शी की शक्ति को मजबूत करना है। शी पहले से ही एक बहुत शक्तिशाली राजनेता औऱ शख्स हैं। लेकिन समस्या यह है कि उनके पास बहुत कम लोग हैं जो वफादार हैं और जो उनके इस्तेमाल के लिए सक्षम हैं, इसलिए उन्हें वांग को सत्ता में बरकरार रखना जरुरी होगा।

जब वांग वाइस प्रीमियर थे तब वे समय-समय पर वे संयुक्त राज्य अमेरिका के दौरे पर जा चुके हैं, उस दौरान एक प्रेस कांफ्रेंस में राष्ट्रपति बराक ओबामा ने एक बार चीनी प्रतिनिधिमंडल को एक हस्ताक्षरित बास्केटबॉल दिया था।ब्राउन ने बताया, वांग एक अद्भुत अर्थशास्त्री हैं जो अपने पार्टी के अन्य सदस्यों के साथ मिलकर एक ड्रीम टीम बना सकते हैं।