Yo Diary

विशेषज्ञों का दावा, अगली सदी में हो सकेगी एलियन से मुलाकात

धरती से दूर जीवन की खोज में लगे वैज्ञानिकों के लिए एलियन को देखना किसी उपलब्धि से कम नहीं है। एक प्रमुख भौतिक शास्त्री मिकियो काकू ने हाल ही में दावा किया कि एलियन से पहली मुलाकात के लिए वैज्ञानिकों समेत सभी धरतीवासियों को अगली सदी तक इंतजार करना होगा। उन्होंने दावा किया कि अगली सदी तक इनसान दूसरे ग्रह के जीवों तक पहुंच सकेगा। न्यूयॉर्क स्थित सिटी यूनिवर्सिटी में सैद्धांतिक भौतिक विज्ञान के प्रोफेसर डॉ. काकू ने कहा कि रेडियो टेक्नोलॉजी की मदद से दूसरे ग्रह के जीवों की बातचीत को सुनना भी जल्द ही संभव हो सकेगा। विचार-विमर्श के लिए इस्माल होने वाली वेबसाइट रेडिट के एएमए (आस्क मी एनिथिंग) में काकू ने यह बात कही। हालांकि उन्होंने यह नहीं बताया कि धरतीवासियों और एलियन की पहली मुलाकात किस तरह की होगी। उन्होंने कहा कि यह मुलाकात दोस्ताना होगी या नहीं, कहा नहीं जा सकता है।

काकू का कहना है कि दूसरे ग्रह के वासियों की भाषा समझना वैज्ञानिकों के लिए बड़ी चिंता का सबब होगा। वह पृथ्वी से सैकड़ों प्रकाश वर्ष दूर होंगे, इसलिए सिर्फ उन्हें सुना जा सकेगा, उनसे बातचीत संभव नहीं होगी। उनके धरती पर आने के संदर्भ में काकू ने कहा कि यह हॉलीवुड फिल्म ‘वॉर ऑफ वर्ल्ड’ जैसा हो सकता है। उन्होंने कहा कि दो ही संभावनाएं हो सकती हैं, या तो वे शांत होंगे या हाहाकारी होंगे। दोनों ही सूरतों में यह मुलाकात दिलचस्प होगी। दूसरे ग्रह के जीवों की खोज में दुनिया के कई देशों के खगोलशास्त्री लगे हुए हैं। कई बार यूएफओ देखने की घटनाएं सामने आ चुकी हैं। हालांकि अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष संस्था नासा इस तरह के दावों को नकारती रही है।

उम्मीद

रेडियो टेक्नोलॉजी की मदद से जल्द दूसरे ग्रह के जीवों की बातचीत सुनना संभव हो सकेगा हॉलीवुड फिल्म ‘वॉर ऑफ वर्ल्ड’ जैसी हो सकती है एलियन और इनसान की पहली मुलाकात