Yo Diary

ममता की अगुवाई में बने तीसरा मोर्चा

इंदौर :काले धन के मुद्दे को लेकर कांग्रेस और भाजपा नीत केंद्र सरकारों पर बरसते हुए पूर्व कानून मंत्री राम जेठमलानी ने रविवार को कहा कि अगले साल होने वाले लोकसभा चुनावों में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख ममता बनर्जी की अगुवाई में तीसरा मोर्चा बनाया जाना चाहिए. 95 वर्षीय वरिष्ठ वकील ने इंदौर प्रेस क्लब में संवाददाताओं से बातचीत में आरोप लगाया कि जर्मनी और अन्य मुल्कों में जमा काले धन को भारत वापस लाने में कांग्रेस एवं भाजपा की अगुवाई वाली सरकारों ने जान-बूझकर रुचि नहीं दिखायी और इस मुद्दे पर जनता के साथ छल का ‘साझा जुर्म’ किया है. लिहाजा देश को ‘ईमानदार नेताओं वाले तीसरे मोर्चे’ की जरूरत है.

जेठमलानी ने कहा, ‘मैं चाहता हूं कि अगले चुनावों में नरेंद्र मोदी सरकार को सत्ता से बाहर करने के लिये ममता तीसरे मोर्चे की अगुवाई करें. ममता में देश का अगला प्रधानमंत्री बनने की योग्यता है.’ पूर्व भाजपा नेता ने काले धन पर अंकुश लगाने के संबंध में मोदी सरकार की नीतियों को लेकर वित्त मंत्री अरुण जेटली की तीखी आलोचना भी की और कहा कि इस सरकार को सत्ता में रहने का हक नहीं है.