Yo Diary

PM नरेंद्र मोदी और CM योगी आदित्यनाथ को छात्रा ने खून से लिखा खत, मदद की लगायी गुहार

लखनऊ : रायबरेली जिले में बलात्कार और फेसबुक पर अश्लील पोस्ट डालने के आरोपितों के खिलाफ कार्रवाई नहीं होने से क्षुब्ध एक छात्रा ने प्रधानमंत्री और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री को खून से खत लिखकर मदद की गुहार लगायी है. रायबरेली की रहनेवाली इस छात्रा ने गत 20 जनवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को खून से लिखे पत्र में आरोप लगाया है कि आरोपितों की ऊंची पहुंच की वजह से पुलिस उनके खिलाफ कार्रवाई नहीं कर रही है. आरोपित पक्ष मुकदमा वापस लेने के लिये उसे धमकी दे रहा है.

लड़की का कहना है कि उसे न्याय नहीं मिला, तो वह आत्महत्या कर लेगी. अपर पुलिस अधीक्षक शशि शेखर सिंह ने बताया कि बाराबंकी में इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रही रायबरेली की एक युवती के पिता ने मार्च, 2017 में पुलिस में शिकायत दर्ज करायी थी कि एक लड़का उनकी बेटी को परेशान करता है. उन्होंने बताया, शिकायत में आरोप लगाया गया था कि आरोपित एक दिन जबरन उनकी बेटी को एक मकान में ले गया, और अपने एक मित्र की मौजूदगी में उसके साथ बलात्कार किया. उसके बाद से वह छात्रा को ब्लैकमेल कर रहा है. सिंह ने बताया कि लड़की के पिता की तहरीर पर पुलिस ने 24 मार्च 2017 को आरोपित युवकों दिव्य पांडेय तथा अंकित वर्मा के खिलाफ बलात्कार तथा अन्य आरोपों में मुकदमा दर्ज किया था. उन्होंने बताया कि उसके बाद नौ अक्तूबर, 2017 को युवती के पिता ने शहर कोतवाली में तहरीर देकर आरोप लगाया था कि उनकी दूसरी बेटी के नाम पर फेसबुक आईडी बनाकर किसी ने अश्लील सामग्री पोस्ट की है. पुलिस ने इस संबंध में आईटी एक्ट के तहत अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था. सिंह ने कहा कि इस मामले में पुलिस को अभी तक विशेषज्ञ टीम की रिपोर्ट प्राप्त नहीं हुई है.

Technology

टेक्नोलॉजी इंडस्ट्री के दिग्गज जॉन चैंबर्स ने कहा, डेटा को स्थानीय स्तर पर स्टोर करने पर ज्यादा जोर

Puch Hole डिस्प्ले के साथ 29 जनवरी को लॉन्च होगा Honor V20, फ्री में मिलेगा इयर फोन

4G सिम होने के बाद भी आपके इंटरनेट की स्पीड क्यों हैं स्लो? इन टिप्स से बढ़ाएं 4G स्पीड

Huawei Y9 (2019) भारत में हुआ लॉन्च, 4 AI कैमरा और 4000mAh बैटरी है खासियत

IIT खड़गपुर में शुरू होगा छह माह का AI कोर्स