Yo Diary

जिंदगी होगी आसान, बुजुर्गों-दिव्‍यांगों को मिले सहायक उपकरण

भारत सरकार की एडिप योजना एवं राष्ट्रीय वयोश्री योजना के रविवार को दीन दयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय के प्रांगण में 4115 पूर्व चिन्हित लाभार्थियों को लगभग 217 लाख रुपये के 7072 नित्य जीवन सहायक एवं दिव्यांग सहायक उपकरण वितरित किए गए। वितरण समारोह के मुख्य अतिथि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एवं अध्यक्षता सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री भारत सरकार थावरचन्द गहलोत ने किया। कार्यक्रम की शुरुआत योगी आदित्यनाथ एवं थावरचंद गहलोत ने दीप प्रज्वलित कर किया। राजकीय स्पर्श बालक इंटर कालेज लालडिग्गी के छात्रों ने सरस्वती वंदना से किया।

4115 लाभार्थियों को एडिप एवं राष्ट्रीय वयोश्री योजना के अंतर्गत मिले सहायक उपकरण 2446 वरिष्ठ नाग

भारत सरकार गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन करने वालों एवं वृद्धावस्था के कारण शारीरिक दृर्बलता से ग्रसित वरिष्ठ नागरिकों की दिनचर्या को सामान्य करने के लिए प्रयासरत है। इसके लिए राष्ट्रीय वयोश्री योजना के अतंर्गत ऐसे वरिष्ठ नागरिकों को सामान्य दिनचर्या में सहायता के लिए सहायक यंत्र एवं उपकरण प्रदान किया जाता है। गोरखपुर में वयोश्री योजना अन्तर्गत प्रदेश का दूसरा और देश 20वां शिविर रविवार को सम्पन्न हुआ।

2446 वरिष्ठ नागरिकों को मिले 94 लाख के उपकरण

राष्ट्रीय वयोश्री योजना के अन्तर्गत एल्मिको 2446 पूर्व चिन्हित लाभार्थियों को लगभग 94 लाख रुपये के 4487 नित्य जीवन सहायक उपकरण प्रदान किए गए। इन उपकरण में 225 फोल्डिंग व्हील चेयर, 75 बैशाखी, 603 वांकिग स्टिक, 17 फोल्डिंग वाकर, 950 कान की मशीन, 627 ट्राईपोड, 168 टेट्रापोड, 973 चश्मा, 849 कृत्रिम दंत वितरित किए गए। कार्यक्रम स्थल पर डाक्टरों की टीम लाभार्थी का दांत सेट किया। इन सहायक उपकरणों के माध्यम से लाभार्थियों को स्वावलम्बी और सशक्त करने के उद्देश्य को पूरा किया गया। ताकि वे सामान्य दिनचर्या को जीने के साथ समाज की मुख्य धारा से खुद को जुड़ा रख सके।

1669 दिव्यांगों को मिले 123 लाख रुपये के उपकरण

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रविवार को एडिप योजना के अंतर्गत 1669 दिव्यांगों को दिव्यांग सहायक उपकरण प्रदान कर उनके चेहरे पर मुस्कान लाए। इन द्विव्यांगों को123 लाख रुपये के 2585 दिव्यांग सहायक उपकरण वितरित किए। इसमें 685 ट्राईसाइकिल, 236 फोल्डिंग व्हील चेयर, 7 सीपी चेयर, 489 बैशाखी,135 वांकिग स्टिक, 50 ब्रैल केन, 11 ब्रैल किट, 150 स्मार्ट केन, 17 रोलेटर, 309 का की मशीन, 130 एमएसआईडी किट, 48 ब्रेल लिपि वाले स्मार्ट फोन, 39 डेजी प्लेयर, 03 एडीएल कीट, 276 कृत्रिम अंग एवं कैलिपर्स प्रदान किए गए।

1669 दिव्यांगों को मिले 123 लाख रुपये के उपकरण

क्रियान्वयन संस्थान भारतीय कृत्रिम अंग निर्माण निगम एलिम्को कानपुर एवं जिला प्रशासन गोरखपुर के तकरीबन 400 कर्मचारी कार्यक्रम को सफल बनाने में जुटे। एल्मिको के डीजीएम अजय चैधरी, सीडीओ अनुज कुमार सिंह, एडीएम प्रशासन प्रभुनाथ, सीआरओ बलराम सिंह, एडीएम वित्त विधान जायसवाल एवं जिला समाज कल्याण अधिकारी सप्तर्षि कुमार एवं आयोजन से जुड़े राजस्व विभाग एवं विकास भवन के कर्मचारियों ने आयोजन को सफल बनाया।

91 वन टांगियों को भी मिले उपकरण गोरखपुर जनपद के पांच वन ग्राम के 83 वरिष्ठ नागरिक राष्ट्रीय वयोश्री योजना एवं 8 दिव्यांग एडिप योजना के अंतर्गत लाभांवित हुए। लाभार्थियों में बेलघाट ब्लाक से 422, ब्रह्मपुर से 320, सरदारनगर से 307, पिपरौली से 286, भटहट से 269, पिपराईच से 235, पाली से 230, चरगांवा से 212, कौड़ीराम से 198, खोराबार से 184, बासगांव से 183, बड़हलगंज से 182, कैम्पियरगंज से 174, जंगल कौड़िया से 174, सहजनवां से 157, खजनी से 143, उरुवां से 131, गगहा से 110, गोला से आए107 लाभार्थियों को इन दोनों योजनाओं के अतंर्गत किया गया। 167 बसें लगाई, बस में ही मिलेगा जलपान इस कार्यक्रम में वरिष्ठ नागरिकों एवं दिव्यांगों को लाने के लिए 167 बसें लगाई गई हैं। प्रत्येक बस में 25 लाभार्थी एवं 25 सहायक आए। इसके अलावा उनकी मदद करने के लिए राजस्व विभाग के 2 कर्मचारी एवं विकास भवन से 2 कर्मचारियों की ड्यूटी प्रत्येक बस में लगाई गई थी। इस तरह 2446 लाभार्थी वरिष्ठ नागरिकों के साथ उनके 2246 सहायक भी कार्यक्रम स्थल पर आए। इसी तरह कुल 1669 दिव्यांग लाभार्थियों के साथ उनके 1669 सहायक भी आए। यानी जनसभा

Technology

.तो भारत में इलेक्ट्रिक कारें बनाएगी मर्सडीज बेंज?

गेम खेलने की लत बच्चों के मानसिक स्वास्थ्य के लिए हानिकारक

Wheels And Waves 2018: रॉयल एनफील्ड ने पेश की तीन दमदार कस्टम बाइक्स

इस कंपनी का सस्ता स्मार्टफोन भारत में लॉन्च, Redmi 5 से मुकाबला

लॉन्च हुआ गूगल एंड्रॉयड मैसेज डेस्कटॉप वर्जन, व्हाट्सएप की तरह कर सकेंगे इस्तेमाल