Yo Diary

पद्मावत का विरोध करने वाले करणी सेना में भाजपा के लोग : अखिलेश

लखनऊ (जेएनएन)।समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कानून व्यवस्था के मुद्दे पर योगी सरकार की फिर आलोचना की है। गुरुवार उन्होंने आरोप लगाया कि फिल्म पद्मावत का विरोध करने के बहाने वातारण बिगाड़ रहे करणी सेना में भाजपा के लोग हैं। ये अपने ही लोगों से विरोध भी कराते हैं और उन पर पुलिस से लाठियां भी बरसा रहे हैं।

पार्टी दफ्तर में बसपा के पूर्व विधायक बब्बन सिंह चौहान व छोटे लाल आदि को सपा की सदस्यता ग्रहण कराते हुए अखिलेश ने मेरठ, लखनऊ, सीतापुर व मथुरा जैसे कई स्थानों की घटनाओं को गिनाते हुए आरोप लगाया कि सरकार खुद ही कानून व्यवस्था खराब कराना चाहती है। ऐसी भयावह घटनाएं कभी नहीं हुईं। सीसी टीवी कैमरों की फुटेज सिद्ध करती है कि अपराधी बेखौफ हैं। तंज कसते हुए कहा, योगी सरकार जो कहती है, वह करती नहीं है। अपराधियों को कहीं यह संदेश तो नहीं दे रही कि यूपी छोड़कर कहीं मत जाओ, यहीं रहो।

कानून व्यवस्था के मुद्दे पर उप राष्ट्रपति वेंकैया नायडू के बयान पर अखिलेश ने कहा, अंग्रेजों के जमाने का कानून है। जितने हथियार थाने में होने चाहिए, उससे ज्यादा हथियारों के लाइसेंस लोगों को मिलने नहीं चाहिए। अच्छा हो कि इस बार हथियारों की होली जलाई जाए।

अखिलेश ने कहा कि सहारनपुर में दो बच्चे मदद मांगते रहे लेकिन पुलिस ने मदद नहीं की। यूपी 100 की काफी टेबुल बुक का रंग भगवा करने से अपराध कम नहीं होगा। उन्होंने यूपी 100 को बर्बाद करने का आरोप भी लगाया।

अखिलेश ने फीरोजाबाद में तीन प्रदेश का माफिया कालिया के लंबे समय से रहने का जिक्र करते हुए कहा कि योगी सरकार बताए कि जिसे तीन राज्यों की पुलिस खोज रही थी, वह फीरोजाबाद में किस भाजपा नेता के साथ में जिम में था। उन्होंने आजम खां से एसआइटी की पूछताछ पर कहा कि चुनाव आने पर सीबीआइ का डर दिखाएंगे।

Technology

भारत में Google Pixel 3, Pixel 3 XL लॉन्च, जानें कीमत-फीचर्स

BSNL 5G इंटरनेट सेवा शुरू करने के करीब, टेलीकॉम बाजार में मचेगा धमाल

कौन हैं ये कोमल लाहिरी? Whatsapp ने जिन्‍हें सौपी है बड़ी जिम्‍मेदारी

सैमसंग ने स्मार्टफोन की नई टेक्नोलॉजी दिखाई

20,000 रुपये से कम कीमत में इन 4 स्मार्टफोन्स में मिलती है iPhoneX जैसी स्क्रीन