Yo Diary

महाराष्ट्र से गुजराज तक फैल चुकी हिंसा को लेकर उत्तर प्रदेश में हाई अलर्ट

लखनऊ महाराष्ट्र से शुरू होकर गुजरात तक पहुंच चुकी जातीय हिंसा ने सूबे की भाजपा सरकार की चिंता बढ़ा दी है। सरकार ने पुलिसिया मशीनरी को चप्पे-चप्पे पर नजर रखने और किसी भी हाल में कानून-व्यवस्था प्रभावित न होने की हिदायत दी है। अपर पुलिस महानिदेशक कानून-व्यवस्था आनन्द कुमार ने प्रदेश में हाई अलर्ट घोषित किया है। विशेष रूप से पश्चिमी उप्र में खास सतर्कता बरतने को कहा है।

कुछ माह पहले सहारनपुर की जातीय हिंसा का दुष्प्रभाव भुगत चुकी सरकार किसी को मौका नहीं देना चाहती है। चूंकि 2019 के चुनाव की तैयारी चल रही है इसलिए संवेदनशीलता और बढ़ गई है। गुजरात और महाराष्ट्र के दलित धु्रवीकरण की आंच कहीं उप्र को भी न प्रभावित करे, इसलिए भी खूब सतर्कता बरती जा रही है। पुलिस मुख्यालय विशेष रूप से पश्चिमी उत्तर प्रदेश पर नजर बनाए हुए है। एडीजी ने मेरठ और आगरा जोन के पुलिस अधीक्षकों को सख्त हिदायत दी है। एडीजी ने कहा कि ऐसे व्यक्तियों पर सतर्क नजर रखी जाए जो शांति व्यवस्था भंग कर सकते हैं। उनके विरुद्ध तत्काल प्रभाव से कार्रवाई को कहा गया है। पुलिस की पेट्रोलिंग व गश्त बढ़ाते हुए अधिकारियों को भ्रमणशील रहने के निर्देश दिये गए हैं। किसी भी स्थिति से निपटने के लिए पर्याप्त पुलिस बल को पुलिस लाइन में एकत्रित रखने की हिदायत दी गई है। स्थानीय अभिसूचना इकाई एवं विशेष शाखा द्वारा अवांक्षित सूचना एकत्र की जाए तथा सोशल मीडिया पर सतर्क दृष्टि रखी जाए।

Technology

ग्रीनलैंड में तेजी से पिघल रही है बर्फ

Honor V20: 48MP रियर कैमरा और In Screen Camera वाले स्मार्टफोन की इस दिन होगी लॉन्चिंग

भारत ने अग्नि 5 का सफल प्रायोगिक परीक्षण किया, 5,000 KM की दूरी तक लक्ष्य भेदने में सक्षम

चीनी वैज्ञानिकों ने बनाया ऐसा कागज, जो बार-बार हो सकता है इस्तेमाल

Google ने वायरस फैलाने वाले 22 ऐप्स को प्ले स्टोर से हटाया, आप भी फौरन डिलीट कर लें