Yo Diary

महाराष्ट्र से गुजराज तक फैल चुकी हिंसा को लेकर उत्तर प्रदेश में हाई अलर्ट

लखनऊ महाराष्ट्र से शुरू होकर गुजरात तक पहुंच चुकी जातीय हिंसा ने सूबे की भाजपा सरकार की चिंता बढ़ा दी है। सरकार ने पुलिसिया मशीनरी को चप्पे-चप्पे पर नजर रखने और किसी भी हाल में कानून-व्यवस्था प्रभावित न होने की हिदायत दी है। अपर पुलिस महानिदेशक कानून-व्यवस्था आनन्द कुमार ने प्रदेश में हाई अलर्ट घोषित किया है। विशेष रूप से पश्चिमी उप्र में खास सतर्कता बरतने को कहा है।

कुछ माह पहले सहारनपुर की जातीय हिंसा का दुष्प्रभाव भुगत चुकी सरकार किसी को मौका नहीं देना चाहती है। चूंकि 2019 के चुनाव की तैयारी चल रही है इसलिए संवेदनशीलता और बढ़ गई है। गुजरात और महाराष्ट्र के दलित धु्रवीकरण की आंच कहीं उप्र को भी न प्रभावित करे, इसलिए भी खूब सतर्कता बरती जा रही है। पुलिस मुख्यालय विशेष रूप से पश्चिमी उत्तर प्रदेश पर नजर बनाए हुए है। एडीजी ने मेरठ और आगरा जोन के पुलिस अधीक्षकों को सख्त हिदायत दी है। एडीजी ने कहा कि ऐसे व्यक्तियों पर सतर्क नजर रखी जाए जो शांति व्यवस्था भंग कर सकते हैं। उनके विरुद्ध तत्काल प्रभाव से कार्रवाई को कहा गया है। पुलिस की पेट्रोलिंग व गश्त बढ़ाते हुए अधिकारियों को भ्रमणशील रहने के निर्देश दिये गए हैं। किसी भी स्थिति से निपटने के लिए पर्याप्त पुलिस बल को पुलिस लाइन में एकत्रित रखने की हिदायत दी गई है। स्थानीय अभिसूचना इकाई एवं विशेष शाखा द्वारा अवांक्षित सूचना एकत्र की जाए तथा सोशल मीडिया पर सतर्क दृष्टि रखी जाए।

Technology

.तो भारत में इलेक्ट्रिक कारें बनाएगी मर्सडीज बेंज?

गेम खेलने की लत बच्चों के मानसिक स्वास्थ्य के लिए हानिकारक

Wheels And Waves 2018: रॉयल एनफील्ड ने पेश की तीन दमदार कस्टम बाइक्स

इस कंपनी का सस्ता स्मार्टफोन भारत में लॉन्च, Redmi 5 से मुकाबला

लॉन्च हुआ गूगल एंड्रॉयड मैसेज डेस्कटॉप वर्जन, व्हाट्सएप की तरह कर सकेंगे इस्तेमाल