YoDiary

वॉट्सऐप CEO से बोले रविशंकर प्रसाद- फेक न्यूज पर लगाम के लिए भारत में खोलें दफ्तर

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स जैसे वॉट्सऐप से फर्जी खबरों के फैलने का सिलसिला लगातार जारी है. फर्जी खबरों और अफवाहों की वजह से मॉब लिंचिंग जैसी कई घटनाएं हुई हैं, जिससे सरकार काफी चिंतित है. इन्हीं पर लगाम लगाने के लिए दिल्ली में वॉट्ऐप के सीईओ क्रिस डेनियल से केंद्रीय सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बात की.

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बताया कि इस मुलाकात के दौरान तीन मुद्दों पर प्रमुखता से बात हुई और वॉट्सऐप की टीम भारतीय कानून के अधीन रहकर काम करने के लिए खुशी-खुशी तैयार है.

रविशंकर प्रसाद के मुताबिक वॉट्सऐप को भारत में एक शिकायत निवारण अधिकारी नियुक्त करने के लिए कहा गया है, जहां लोग अपनी शिकायत दर्ज करा सकें. साथ ही उन्हें भारत में एक कॉर्पोरेट दफ्तर भी खोलने के लिए कहा गया है, जिसके लिए वॉट्सऐप की टीम ने हामी भरी है. साथ ही टीम को भारतीय कानून के भीतर काम करने के लिए भी कहा गया है. इसके लिए भी टीम राजी है.

There are also very sinister developments, that provokes crime like mob lynching, revenge porn, & you must find solutions to these challenges which are downright criminal violation of Indian laws. I suggested 3 points. 1- WhatsApp must have a grievance officer in India: RS Prasad pic.twitter.com/AGWdOEd3jZ

— ANI (@ANI) August 21, 2018 रविशंकर प्रसाद के मुताबिक, क्रिस डेनियल से झूठी खबरों और अफवाहों के बारे में भी चर्चा हुई है. जहां मंत्रालय ने उन्हें इस मामले में भारतीय कानून के निहितार्थ की विस्तार से चर्चा की है. इसके अलावा प्रसाद की ओर से टीम को ऑडियो और वीडियो प्लेटफॉर्म के जरिए जागरूकता अभियान चलाए जाने की सलाह दी गई है.




COMMENTS

Suraj misra

Good work

Ravi

Nice