Yo Diary

IPL 2018 : चेन्नई सुपरकिंग्स ने रोमांचक मुकाबले में हैदराबाद को चार रन से हराया, चमके रायडू-रैना

हैदराबाद : चेन्नई सुपरकिंग्स ने अम्बाती रायुडु और सुरेश रैना के अर्धशतकों के बाद दीपक चहर की कातिलाना गेंदबाजी से यहां इंडियन प्रीमियर लीग के रोमांचक मैच में सनराइजर्स हैदराबाद को चार रन से शिकस्त दी.

चेन्नई सुपरकिंग्स ने धीमी शुरुआत से उबरते हुए रायुडु (79) और रैना (नाबाद 53) के अर्धशतकों की मदद से निर्धारित 20 ओवरों में तीन विकेट पर 182 रन बनाये. कप्तान महेंद्र सिंह धौनी ने अंतिम ओवरों में 12 गेंदों पर नाबाद 25 रन जोड़े. रायुडु और रैना ने मिलकर तीसरे विकेट के लिये 112 रन की अहम भागीदारी निभायी क्योंकि नौ ओवर के बाद चेन्नई का स्कोर दो विकेट पर 41 रन था लेकिन अंतिम 11 ओवर में टीम ने एक विकेट पर 141 रन जोड़कर चुनौतीपूर्ण स्कोर खड़ा किया.

इसके बाद दीपक चहर की कातिलाना गेंदबाजी से सनराइजर्स हैदराबाद 20 ओवर में छह विकेट पर 178 रन ही बनाने दिये. चहर ने चार ओवर में 15 रन देकर तीन विकेट झटके. कप्तान केन विलियमसन (84 रन) का आईपीएल में छठा अर्धशतक और यूसुफ पठान (45 रन) के साथ पांचवें विकेट के लिये 79 रन की भागीदारी भी मेजबान टीम के काम नहीं आ सकी. चेन्नई सुपरकिंग्स इस तरह पांच मैच में चौथी जीत से आठ अंक लेकर शीर्ष स्थान पर पहुंच गयी जबकि सनराइजर्स के इतने ही मैचों में छह अंक हैं और वह चौथे नंबर पर कायम है.चहर ने अपने पहले ओवर में सलामी बल्लेबाज रिकी भुई को आउट किया जो मेडन रहा. दूसरे ओवर में उन्होंने मनीष पांडे और तीसरे ओवर में दीपक हुड्डा को पवेलियन भेजकर चेन्नई सुपरकिंग्स के लिये चीजें आसान कर दीं. महज 22 रन पर तीन विकेट गंवानी वाली हैदराबाद की टीम के कप्तान विलियमसन और शकिब अल हसन ने टीम को संभाला. लेकिन शानदार क्षेत्ररक्षण करने वाले कर्ण शर्मा ने अपने पहले ही ओवर में शाकिब (24 रन, 19 गेंद दो चौके और एक छक्का) का विकेट झटक लिया, जिनके आउट होते ही चौथे विकेट की 49 रन की भागीदारी का अंत हुआ. इसके बाद विलियम्सन (51 गेंद में

विलियमसन ने 15वें ओवर में कर्ण शर्मा पर तीन छक्के जड़कर 22 रन जुटाये. पर ड्वेन ब्रावो ने उनकी आशाओं पर पानी फेरते हुए विलियमसन को हवा में खेलने पर मजबूर कर दिया और रविंद्र जडेजा ने आगे बढ़कर शानदार कैच लपका. पठान भी अगले ओवर में पवेलियन लौट गये, हालांकि इससे पहले उन्होंने भी कुछ खूबसूरत शाट लगाकर दर्शकों का मनोरंजन किया. इसके बाद अंतिम छह गेंद में टीम को 19 रन बनाने थे जो संभव नहीं हो सका. दोनों टीमों की बल्लेबाज में शुरुआती धीमी रही लेकिन अंत में दोनों के बल्लेबाजों ने आक्रामक प्रदर्शन किया, पर घरेलू टीम अंत में पिछड़ गयी. मेजबान टीम ने टास जीतकर क्षेत्ररक्षण का फैसला किया. हैदराबाद के गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार (तीन ओवर में 22 रन देकर एक विकेट), बिली स्टैनलेक और शाकिब उल हसन ने अच्छी शुरुआत करायी. पहले तीन ओवर में इन गेंदबाजों के ओवरों में क्रमश: दो, दो और चार रन ही बने. चौथे ओवर में शेन वाटसन (09) भुवी की गेंद को समझने में असफल रहे और मिडविकेट पर हुड्डा को कैच देकर पवेलियन पहुंच गये.

छह ओवर के बाद चेन्नई सुपरकिंग्स का स्कोर एक विकेट पर 27 रन था जो आईपीएल के 11वें सत्र में पावरप्ले में सबसे न्यूनतम स्कोर भी है. फाफ डु प्लेसिस (11) भी लंबी पारी नहीं खेल सके. राशिद खान (चार ओवर में 49 रन देकर एक विकेट) के स्पैल की पहली गेंद का अनुमान नहीं लगा पाये जो उनके बल्ले को चूमती हुई विकेटकीपर रिद्धिमान साहा के हाथों में चली गयी.दस ओवर के बाद चेन्नई सुपरकिंग्स का स्कोर दो विकेट पर 54 रन था जो इतने ओवर में उनका अब तक का न्यूनतम स्कोर भी है. रैना और रायुडु क्रीज पर थे. अगले ओवर की अंतिम दो गेंद में रैना (43 गेंद में पांच चौके और दो छक्के) ने राशिद पर लगातार दो छक्के जड़े, जिससे टीम इसमें 16 रन जोड़ने में सफल रही.चेन्नई के लिये 14वां ओवर अच्छा रहा जिसमें रायुडु ने तीन चौके और एक छक्के से 19 रन बने. रायुडु (37 गेंद, नौ चौके और चार छक्के) ने इसके बाद दो गेंद खेली और 27 गेंद में छह चौके और दो छक्के से अपना अर्धशतक पूरा किया. इसके बाद इन दोनों ने तेजी से रन जुटाना शुरू किया जिससे रन गति भी बढ़ती गयी. दोनों अच्छी लय में थे, तभी रायुडु रन आउट हो गये.