Yo Diary

स्मिथ या बेनक्रॉफ्ट नहीं, वॉर्नर थे बॉल टेंपरिंग के मास्टरमाइंड, अगले टेस्ट से होंगे बाहर!

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए)गेंद से छेड़छाड़ मामले में स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर पर बड़ा फैसला लेने जा रहा है. इससे पहले यह खबर आई है कि वॉर्नर को साउथ अफ्रीका के खिलाफ मौजूदा टेस्ट सीरीज का आखिरी मैच नहीं खेलने दिया जाएगा.

दरअसल, वॉर्नर को मामले का 'प्रमुख षड्यंत्रकारी' माना जा रहा है. गेंद से छेड़छाड़ प्रकरण की जांच के लिए केपटाउन पहुंचे सीए के अधिकरियों ने वॉर्नर-स्मिथ के अलावा कैमरन बेनक्रॉफ्ट और कोच डेरेन लेहमन से भी बात की है. बताया जाता है कि सीए के जांचकर्ताओं ने वॉर्नर को 30 मार्च से शुरू होने वाले जोहानिसबर्ग टेस्ट मैच से बाहर रखने के लिए कहा है.

सीए ने पहले ही कहा है कि बॉल टेंपरिंग मामले में उसका फैसला बुधवार तक आ जाएगा. ऑस्ट्रेलिया में ऐसी चर्चा है कि स्मिथ और वार्नर को क्रिकेट खेलने से प्रतिबंधित किया जा सकता है. इधर, सीए के फैसले के बाद ही स्मिथ और वॉर्नर के आईपीएल कॉन्ट्रैक्ट रद्द करने के कदम उठाए जाएंगे. राजस्थान रॉयल्स ने स्मिथ की जगह अजिंक्य रहाणे को अपना कप्तान बनाया है. बॉल टेंपरिंग मामले में आईसीसी ने स्मिथ को एक टेस्ट के लिए निलंबित किया है. साथ ही उनकी मैच फीस का 100 प्रतिशत जुर्माना लगाया गया है. स्मिथ को ऑस्ट्रेलिया की कप्तानी गंवानी पड़ी और उपकप्तान वॉर्नर को भी उनके पद से हाथ धोना पड़ा. ऑस्ट्रेलियाई सरकार ने सीए से कहा था कि स्मिथ को टीम की कप्तानी से हटा दिया जाए.

सीए के मुख्य कार्यकारी अधिकारी जेम्स सदरलैंड ने कहा है कि मामले की जांच जारी है. सीए के ट्वीट के मुताबिक इयान रॉय और पैट हावर्ड केपटाउन में हैं. खुद सदरलैंड मंगलवार को जोहानिसबर्ग पहुंच रहे हैं. रिपोर्ट्स के मुताबिक बॉल टेंपरिंग का प्लान ड्रेसिंग रूम के अंदर बना था. टेंपरिंग की 'योजना' को कप्तान स्मिथ, वॉर्नर, मिचेल स्टार्क, जोश हेजलवुड और नाथन लियोन ने अंतिम रूप दिया था. इस प्लान में कोच डेरेन लेहमन ने भी खिलाड़ियों का साथ दिया था.