Yo Diary

आईएसएल-4 : पुणे ने पहली बार सेमीफाइनल में जगह बनाई

मुंबई, लाइव हिन्दुस्तान टीम।पुणे को एफसी गोवा के खिलाफ 0-4 की करारी शिकस्त झेलने के बाद भी एफसी पुणे सिटी पहली बार इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के अंतिम चार में जगह बनाने में कामयाब रही है। अपने पिछले मैच में पुणे को बेशक करारी हार मिली लेकिन इस सत्र के अन्य मैचों में शानदार प्रदर्शन करने के कारण वह पहली बार प्लेऑफ में प्रवेश करने में कामयाब रहे। क्लब के लिए 2014 में शुरू लीग के सेमीफाइनल में पहुंचना सचमुच खुशी का विषय है।

पुणे सिटी के कोच रांको पोपोविक ने कहा, “एक क्लब के रूप में प्लेऑफ में पहुंचना हमारे लिए पहली बाधा थी। पूरी टीम ने एक लक्ष्य को पाने के लिए कड़ी मेहनत की और यह नतीजा क्लब के साथ जुड़े हर व्यक्ति की मेहनत का परिणाम है। लेकिन यह तो बस शुरुआत है और हमें उम्मीद हैं कि इस बार हम अपने अंतिम लक्ष्य को पाकर रहेंगे।” पुणे सिटी 29 अंकों के साथ अंकतालिका में दूसरे पायदान पर काबिज है और अगर टीम के इतने ही अंक रहते हैं तो भी टीम शीर्ष चार में बनी रहेगी। अगर पुणे अपने अंतिम मैच में दिल्ली से हार जाता है एवं चेन्नई को मुंबई के हाथों हार मिलती है और जमशेदपुर की टीम गोवा को हरा देती है एवं मुंबई अपने दोनो अंतिम मुकाबले जीत जाता है तो ऐसी संभावना है कि चार टीमें 29 अंकों के साथ लीग स्तर पर अपना सफर समाप्त करें।

अंकों के बराबर होने पर लीग इन चार टीमों की बीच लीग स्तर पर हुए आपसी मुकाबले को वरीयता दी जाएगी। मौजूदा स्थिति के अनुसार, पुणे 12 अंकों के साथ इन टीमों के बीच अव्वल रहेगी। लीग स्तर पर पुणे ने मुंबई और जमशेदपुर के खिलाफ दोनों मैच जीते हैं। चेन्नईयन और जमशेदपुर को भी इससे लाभ होगा और वे भी सेमीफाइनल में पहुंच सकती हैं। गोवा अगर एटीके और जमशेदपुर के खिलाफ अपने अंतिम दो मैच जीत जाती है तो वह 3० अंकों के साथ लीग स्तर के अंत में 3० अंकों के साथ मजबूत स्थिति में होगी। ऐसे में बाकी की तीन टीमों के 29-29 अंक रह जाएंगे और ऐसी स्थिति में पुणे का रास्ता साफ हो जाएगा। पुणे अपने अंतिम मैच में शुक्रवार को दिल्ली डायनामोज से भिड़ेगी। कप्तान मार्सेलिन्हो और डिएगो कालोर्स निलंबित होने के कारण अगले मैच में नहीं खेल पाएंगे और ऐसी स्थिति में हालांकि पुणे के लिए दिल्ली को हराना मुश्किल होगा क्योंकि यह टीम काफी अच्छा खेल रही है।