Yo Diary

IPL 2018 Auction: गौतम गंभीर की 'घर वापसी', KKR को दिलाया 'IPL ताज' फिर भी जूही चावला नहीं हुईं इंप्

नई दिल्ली आईपीएल नीलामी (IPL Auction 2018) के पहले दिन गौतम गंभीर की बोली चौंकाने वाला रहा. कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) को अपनी कप्तानी में दो बार विजेता बनाने वाले गौतम गंभीर को खरीदने में टीम के सह मालिक जूही चावला और शाहरुख खान ने दिलचस्पी नहीं दिखाई. आखिरकार दिल्ली डेयरडेविल्स ने गौतम गंभीर को 2 करोड़ 80 लाख में खरीदा है. दिल्ली की टीम गौतम गंभीर की पुरानी टीम है, उन्होंने इसी टीम से IPL की की शुरुआत की थी.

KKR को दो बार IPL विनर बना चुके हैं गंभीर

आईपीएल के शुरुआती चार सीजन में दुनिया भर से महंगे खिलाड़ी और कोच जुटाने के बाद भी शाहरुख खान की टीम कोलकाता नाइट राइडर्स कुछ खास प्रदर्शन नहीं कर पा रही थी. इसके बाद शाहरुख खान ने खुद आगे बढ़कर गौतम गंभीर को करीब नौ करोड़ की कीमत देकर केकेआर में उन्हें शामिल किया था. गौतम ने भी शाहरुख के दांव की लाज रखते हुए केकेआर को अपनी कप्तानी में दो बार (2012-2014) आईपीएल का ताज दिलाया है. सबसे अच्छी बात यह है कि गौतम गंभीर ने शानदार कप्तानी के दम पर टीम के बाकी खिलाड़ियों से प्रदर्शन कराया. इसके अलावा उन्होंने खुद बल्ले से भी कमाल किया. कई मौके ऐसे आए जब गंभीर ने खुद शानदार पारी खेलकर KKR की जीत सुनिश्चित की.

गंभीर ने अबतक IPL में 148 मैच खेले हैं, जिसमें उन्होंने 31.78 की औसत से 4132 रन बनाए हैं. उन्होंने 35 अर्धशतकीय पारी भी खेली हैं. IPL में सबसे ज़्यादा रन बनाने वालों में गंभीर चौथे स्थान पर हैं. सबसे ज़्यादा अर्धशतक बनाने में पहले स्थान पर ऑस्ट्रेलिया के खिलाड़ी डेविड वार्नर रहे तो 35 अर्धशतक बनाकर गौतम गंभीर दूसरे स्थान पर रहे.कप्तानी की बात करें तो, 2011-2017 तक कोलकाता नाइट राइडर्स की कप्तानी की. मेज़बानी में केकेआर दो बार (2012 और 2014) आईपीएल चैंपियन रही. धोनी और विराट कोहली के मुक़ाबले बतौर कप्तान गौतम गंभीर दूसरे स्थान पर रहे.

गौतम गंभीर को पहले से ही थी इस बात का अंदेशा?

केकेआर की टीम से छुट्टी की बात शायद गौतम गंभीर को पहले से पता था. 24 जनवरी को गंभीर ने खुद कहा था, 'मुझे याद है कि यह जनवरी (2011 में) का महीना था और तब मेरी चिंता बस यही थी कि मुझे उस साल होने वाले 50 ओवर के वर्ल्ड कप के लिए चुना जाता है या नहीं. यह नीलामी के दिन ही था, मुझे चिंता हो रही थी. अब 7 साल बाद मेरा जीवन और क्रिकेट के प्रति रवैया काफी व्यापक हो गया है.'

गौतम गंभीर को पहले से ही थी इस बात का अंदेशा?

गंभीर ने कहा था, 'मैं अपने करियर के उस चरण में हूं जहां मैं सीनियर खिलाड़ी होना चाहता हूं, युवा क्रिकेटरों का मार्गदर्शक होना चाहता हूं. भले ही यह केकेआर के लिए हो या फिर सनराइजर्स, दिल्ली और मुंबई के लिए, मुझे इससे कोई परेशानी नहीं है.' वर्ल्ड कप विजेता के लिए केकेआर की टीम काफी 'भावनात्मक निवेश' रही है और उन्होंने स्वीकार किया कि अगर वह दोबारा पर्पल जर्सी नहीं पहनते हैं तो उनके लिए काफी मुश्किल होगा. बता दें कि फ्रैंचाइजी ने उन्हें रिलीज कर दिया है.