Yo Diary

आपकी खूबसूरती बिगाड़ सकती है ये गलतफहमियां

त्वचा के लिए क्या सही है और क्या गलत, इस बारे में लोग अकसर भ्रम में रहते हैं। सुनी-सुनाई बातों में आकर वे कई तरह के एक्सपेरिमेंट करने से भी नहीं कतराते। सखी बता रही है, ऐसी ही कुछ धारणाओं और उनकी सच्चाई के बारे में। जब आप किसी मॉडल या सलेब्रिटी को परदे पर देखती हैं तो लगता है, जैसे किसी मूर्तिकार ने संगमरमर को तराश दिया हो। सुंदर चेहरे की ख्वाहिश हर उम्र की स्त्री को होती है। सुंदर दिखने से कॉन्फिडेंस भी बढ़ जाता है लेकिन दूसरे पर जो मेकअप अच्छा लगता है या उसकी त्वचा को जो सूट करता हो, ज़रूरी नहीं कि आपको भी वह रास आए।

सच्चाई :

यह धारणा पूरी तरह से गलत है। तीखी धूप न हो, तो भी यूवीए और यूवीबी किरणें चेहरे पर प्रतिकूल प्रभाव डालती हैं। अगर आपकी त्वचा पर टैनिंग हो रही है तो इसका अर्थ है कि आपकी त्वचा को ज्य़ादा क्षति पहुंच सकती है, इसलिए सचेत हो जाएं। सनस्क्रीन का प्रयोग घर हो या बाहर दोनों ही जगह करना चाहिए।

इस बात को न तो पूरी तरह से $गलत कहा जा सकता है और न सही। हर कोई रेड या ऑरेंज लिपस्टिक का इस्तेमाल कर सकता है लेकिन ये शेड्स बहुत सोच-समझकर चुनने चाहिए। यदि आपका रंग गेहुंआ है तो डीप रेड कलर की लिपस्टिक लगा सकती हैं। अगर आप सांवले रंग की हैं तो मरून रेड कलर का इस्तेमाल कर सकती हैं। आजकल मेक अप में लोग काफी प्रयोगवादी हो गए हैं। इसलिए कहा जा सकता है कि जिस कलर का इस्तेमाल आप सहजता से कर लें, उसे यूज़ करने से न हिचकें। ब्राउन रेड इस समय चलन में है।

यह धारणा गलत है। ऑयली त्वचा हमें युवा बनाए रखने में मददगार है। कई बार चेहरे के किसी हिस्से में चिपचिपाहट महसूस होने पर लोगों को लगता है कि उनकी स्किन ऑयली है लेकिन ज्य़ादातर लोगों की त्वचा मिश्रित होती है। खास बात यह है कि त्वचा चाहे ड्राई, ऑयली या मिक्स हो, नमी की ज़रूरत हर त्वचा को होती है। अपनी स्किन के हिसाब से मॉयस्चराइज़र का इस्तेमाल करें। बाज़ार में हर तरह की स्किन के लिए मॉयस्चराइज़र मौज़ूद हैं। उनमें से जो आपकी त्वचा के अनुरूप हो, उसे ही चुनें। ऐसे किसी भी प्रोडक्ट का इस्तेमाल न करें, जिससे चेहरे पर जलन महसूस हो। अगर आपकी त्वचा वाकई में ऑयली हो, तभी ऑयल-फ्री प्रोडक्ट का इस्तेमाल करें।

: यह धारणा सही है। कंडिशनिंग व सीरम से बालों को पोषण मिलता है और दोमुंहे बाल कुछ हद तक सुलझ जाते हैं पर वे पूरी तरह से ठीक नहीं हो सकते। इस समस्या को सुलझाने का एकमात्र तरीका यह है कि खराब बालों को रेगुलर ट्रिम कराते रहें ताकि वे व्यवस्थित रहें। बालों के टेक्सचर को मुलायम बनाने के लिए कंडिशनर और सीरम लगाएं।