Yo Diary

मुगलसराय स्टेशन आज दोपहर बन जाएगा इतिहास, कार्यक्रम में शामिल होंगे शाह, योगी व गाेयल

वाराणसी : उत्तर भारत के सबसे चर्चित रेलवे स्टेशनों में एक मुगलसराय आज दोपहर बाद इतिहास बन जाएगा. आज दोपहर दो बजे से मुगलसराय जंक्शन का नाम पंडित दीन दयाल जंक्शन हो जाएगा. इसके लिए मुगलसराय में दिन के दो बजे एक कार्यक्रम आयोजित किया गया है, जिसमें भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह, रेल मंत्री पीयूष गोयल एवं राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शामिल होंगे. इस दौरान मुगलसराय जंक्शन का नाम पंडित दीन दयाल उपाध्याय जंक्शन किया जाएगा. भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह आज उत्तर प्रदेश में विभिन्न विकास कार्यों का शुभारंभ करेंगे। लाइव देखें https://t.co/vpP0MI6iTu पर pic.twitter.com/IGzqddFccc — BJP (@BJP4India) August 5, 2018 इसके अलावा, जंक्शन के यार्ड का स्मार्ट यार्ड में उन्नयन किया जाएगा. इसके साथ ही रूट इंटरलॉकिंग प्रणाली का उन्नयन किया जाएगा. साथ ही स्टेशन विकास का कार्य भी आरंभ किया जाएगा. इस दौरान एकात्मता एक्सप्रेस ट्रेन संख्या 14261 व 62 की शुरुआत की जाएगी.

अमित शाह व पीयूष गोयल सभी महिला कर्मी द्वारा संचालित एक मालगाड़ी को भी हरी झंडी दिखाकर रवाना करेंगे. कार्यक्रम मुगलसराय के बाकले ग्राउंट में आयोजित किया जाएगा. कौन थे पंडित दीनदयाल उपाध्याय? पंडित दीन दयाल उपाध्याय भाजपा के पुराने संस्करण जनसंघ के संस्थापकों में एक थे. डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी के साथ राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ से जुड़े पंडित दीनदयाल उपाध्याय ने भारतीय जनसंघ की नींव रखी थी. वे जनसंघ के अध्यक्ष भी रहे और हमेशा पार्टी के विस्तार के लिए ट्रेन के माध्यम से देश की लंबी यात्रा करते थे. उनका शव मुगलसराय स्टेशन के करीब ही ट्रेन से संदिग्ध अवस्था में मिला था. भारतीय जनता खुद को राष्ट्रीय स्वयंसेवक के अलावा डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी व पंडित दीन दयाल उपाध्याय की वैचारिक ऊर्जा से संचालित करती है.