Yo Diary

AUSvsIND; 2nd ODI: महेंद्र सिंह धौनी ने फिर किया साबित कि वही हैं नंबर वन मैच फिनिशर

महेंद्र सिंह धौनी ने एक बार फिर साबित किया कि उन्हें क्यों विश्व क्रिकेट के इतिहास के बेस्ट फिनिशर्स में गिना जाता है। भारत ने एडिलेड ओवल मैदान पर खेले गए दूसरे वनडे मैच में मेजबान ऑस्ट्रेलिया को छह विकेट से हरा दिया। इसी के साथ भारत ने तीन मैचों की वनडे सीरीज में 1-1 से बराबरी कर ली है। सीरीज का आखिरी मुकाबला 18 जनवरी को मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड में खेला जाएगा। ऑस्ट्रेलिया ने मैच में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए शॉन मार्श के शतक (123 गेंदों में 11 चौकों और 3 छक्कों की मदद से 131 रन) की मदद से निर्धारित 50 ओवरों में 9 विकेट पर 298 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर खड़ा किया। जिसके जवाब में भारत ने कप्तान विराट कोहली (105 गेंदों में 5 चौकों और 2 छक्कों की मदद से 104 रन) और महेंद्र सिंह धौनी के नाबाद अर्धशतक की मदद से 49.2 ओवरों में 4 विकेट पर 299 रन बनाकर आसानी से जीत दर्ज की। विराट को उनकी पारी के लिए 'मैन ऑफ द मैच' चुना गया। वनडे में यह उनका 39वां शतक है।

विराट कोहली-एमएस धौनी ने डाली भारत के जीत की नींव

इस मैच में भारत के जीत की नींव कप्तान विराट कोहली ने महेंद्र सिंह धौनी के साथ मिलकर तैयार की और दोनों के बीच चौथे विकेट के लिए 82 रन की महत्वपूर्ण साझेदारी हुई। लेकिन जब भारत को जीत के लिए 56 रन की दरकार थी तो कप्तान विराट कोहली 104 रन के निजी योग पर आउट होकर पवेलियन लौट गए। यहां से महेंद्र सिंह धौनी ने दिनेश कार्तिक के साथ मिलकर टीम इंडिया को जीत दिलाने की जिम्मेदारी संभाली और उसे अंजाम तक भी पहुंचाया। महेंद्र सिंह धौनी का इस सीरीज में यह दूसरा अर्धशतक है। वह सिडनी में खेले गए पहले वनडे में भी 51 रन बनाकर आउट हुए थे। इस मैच में धौनी ने एक अनुभवी फिनिशर की भूमिका निभाई और जोखिम लेने से बचते रहे। उन्होंने अपनी नाबाद 55 रनों की पारी में 54 गेंदों का सामना किया और सिर्फ 2 छक्के लगाए।

महेंद्र सिंह धौनी ने वनडे में वापस हासिल की 50 की औसत

दिनेश कार्तिक ने भी दूसरे छोर से अच्छी भूमिका निभाई और 14 गेंदों में 2 चौकों की मदद से 25 रन बनाकर नाबाद लौटे। भारत को आखिरी ओवर में जीत के लिए 7 रन बनाने थे। महेंद्र सिंह धौनी ने जेसन बेहरेनडोर्फ की पहली ही गेंद पर लॉन्ग ऑन के ऊपर से छक्का जड़ कर स्कोर टाई कर दिया। इसकी अगली गेंद पर उन्होंने सिंगल लेकर भारत को 6 विकेट से जीत दिला दी। अपनी इस नाबाद अर्धशतकीय पारी के साथ ही महेंद्र सिंह धौनी ने वनडे में 50 की औसत का आंकड़ा छू लिया, जो 2018 में उनके खराब प्रदर्शन के ​कारण गिरकर 49 के आस-पास आ गया था। रोहित शर्मा (43) और शिखर धवन (32) ने भी अच्छी शुरूआत के बाद अपने विकेट गंवाए। अंबाती रायुडू भी (24) विकेट पर जमने के बाद आउट हुए। भारत के लिए गेंदबाजी में भुवनेश्वर कुमार ने 4 और मोहम्मद शमी ने 3 विकेट हासिल किए। रवींद्र जडेजा को भी 1 सफलता मिली।