Yo Diary

ST में शामिल करने की मांग को लेकर कुरमी/कुड़मी संघर्ष मोर्चा का झारखंड बंद आज, प्रशासन तैयार

रांची : कुरमी/कुड़मी विकास मोर्चा ने सोमवार को बुलाये गये झारखंड बंद के मद्देनजर रविवार को जयपाल सिंह स्टेडियम से अलबर्ट एक्का चौक तक मशाल जुलूस निकाला. जुलूस में ‘कल झारखंड बंद रहेगा’ के नारे लगाये गये. अलबर्ट एक्का चौक पर मोर्चा के केंद्रीय अध्यक्ष शीतल अोहदार ने कहा कि सोमवार को संपूर्ण झारखंड बंद रहेगा. राज्य सरकार अविलंब कुरमी-कुड़मी (महतो) को अनुसूचित जनजाति की सूची में सूचीबद्ध करने की प्रक्रिया शुरू कर भारत सरकार को भेजे.

अगर ऐसा नहीं होता है, तो संगठन आरपार की लड़ाई लड़ेगा. राज्य के व्यवसायियों, बस एसोसिएशन, ट्रक एसोसिएशन, टेंपो एसोसिएशन, फुटपाथ दुकानदार संघ, ठेलेवालों से आग्रह किया गया है कि बंद को सफल बनाने में सहयोग करें. कुरमी को एसटी में शामिल करने के लिए टीआइआइ की जरूरत नहीं : मोर्चा के केंद्रीय सचिव रामपोदो महतो ने कहा कि झारखंड सरकार कुरमियों को धोखा देना बंद करे. सरकार टीआरआइ का हवाला देकर आंदोलन को कमजोर करना चाहती है. कुरमी को एसटी में शामिल करने के लिए टीआइआइ की आवश्यकता नहीं है. मोर्चा के केंद्रीय उपाध्यक्ष राजेश महतो ने कहा कि कुरमी अपने हक-अधिकार के लिए आर-पार की लड़ाई लड़ने की तैयारी कर चुके हैं.

2018 में कुरमी को अनुसूचित जनजाति की सूची में शामिल नहीं किया गया, तो आगामी विधानसभा चुनाव में कुरमी विरोधी सरकार को सबक सिखाया जायेगा. मोर्चा के केंद्रीय कोषाध्यक्ष सखीचंद महतो, मीडिया प्रभारी अोम प्रकाश महतो, केंद्रीय उपाध्यक्ष रूप लाल महतो, सदस्य सागर महतो, रांची जिला अध्यक्ष राजकुमार महतो, जिला सचिव संजय लाल महतो ने भी अपने विचार रखे.

सीएम हाउस घेरनेवालों से निबटने के लिए 700 अतिरिक्त पुलिस बल की होगी तैनाती

रांची : कुरमी को एसटी में शामिल करने की मांग को लेकर सोमवार को आहूत झारखंड बंद और पारा शिक्षकों द्वारा मुख्यमंत्री आवास घेराव को देखते हुए रांची पुलिस ने सुरक्षा की तैयारी कर ली है. सुरक्षा में 700 अतिरिक्त पुलिस बल की तैनाती की गयी. इसके अलावा अलग से मजिस्ट्रेट की भी तैनाती की गयी. पारा शिक्षकों के कारण मुख्यमंत्री आवास के आस-पास विधि-व्यवस्था की समस्या न हो, इसके लिए प्रशासन की ओर से मुख्यमंत्री आवास के चारों ओर बैरिकेडिंग की गयी है. साथ ही बंद समर्थक विधि-व्यवस्था की गंभीर समस्या उत्पन्न न करें, इसे लेकर उनसे सख्ती से निबटने और तत्काल गिरफ्तार करने का निर्देश सीनियर अधिकारियों ने दिया है.

सीएम हाउस घेरनेवालों से निबटने के लिए 700 अतिरिक्त पुलिस बल की होगी तैनाती

बंदी और घेराव को लेकर रविवार शाम पुलिस लाइन में एसएसपी कुलदीप द्विवेदी और सिटी एसपी अमन कुमार ने सभी डीएसपी, थानेदार सहित अन्य पुलिस कर्मियों को ब्रीफ किया. एसएसपी ने जवानों को निर्देश दिया है कि वे ड्यूटी वाले स्थान पर अलर्ट रहेंगे. जवान बॉडी प्रोटेक्टर और हेलमेट पहने रहेंगे, ताकि आपात स्थिति में विधि-व्यवस्था की समस्या से निबटने में आसानी हो. वहीं राजधानी और आस-पास के थानेदार व डीएसपी को सोमवार को अहले सुबह से ही अलर्ट और गश्ती पर रहने का निर्देश दिया है. इसके साथ ही लोगों की गतिविधियों पर भी निगरानी रखने की हिदायत दी गयी है. इससे पहले शनिवार को सिटी एसपी ने भी बैठक पर विधि- व्यवस्था की समस्या से निबटने के लिए कुछ बिंदुओं पर निर्देश दिया था. पुलिस अधिकारियों के अनुसार बंद समर्थकों के संबंध में जहां यह सूचना प्राप्त हो रही है कि वे शहर में बड़ी संख्या में निकलेंगे. वहीं दूसरी ओर ग्रामीण थाना क्षेत्र में भी अधिक संख्या में निकलने की संभावना है. इसलिए ग्रामीण इलाके में तैनात पुलिस अफसरों को भी विशेष रूप से अलर्ट रहने को कहा गया है.

इन स्कूलों ने की है बंद की घोषणा:-- लिटिल विंग्स स्कूल - सेवन स्टार एकेडमी - शारदा ग्लोबल स्कूल - डॉन बॉस्को स्कूल, काेकर