Yo Diary

सोशल: सेना की वर्दी में पद्मभूषण सम्मान लेकर छा गए महेंद्र सिंह धोनी

इतिहास में दर्ज 2 अप्रैल का दिन और ख़ास हो गया जब महेंद्र सिंह धोनी को इस दिन भारत के तीसरे सर्वोच्च नागरिक सम्मान यानी पद्म भूषण से नवाज़ा गया.

ठीक सात साल पहले इसी दिन गेंद धोनी के बैट से छूती हुई ऊंची उड़ी थी और एक शानदार सिक्सर के साथ भारत ने क्रिकेट वर्ल्ड कप अपने नाम कर लिया था. इस मौके पर सभी आंखें लेफ़्टिनेंट कर्नल की मानद उपाधि से सम्मानित धोनी पर टिकीं थीं जो सेना की वर्दी में अवॉर्ड लेने राष्ट्रपति भवन पहुंचे थे.

सेना की वर्दी में 'कैप्टन कूल'

अपने नाम का ऐलान होते ही सेना की वर्दी में सजे धोनी पूरे रोब और अदब के साथ, तालियों की गड़गड़ाहट के बीच मार्च करते हुए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के पास पहुंचे और उनके हाथों पद्म भूषण सम्मान लिया. 37 वर्षीय धोनी कपिल देव के बाद पद्भ भूषण सम्मान पाने वाले दूसरे भारतीय क्रिकेटर हैं. धोनी के फ़ैंस भी अपने प्यारे कैप्टन कूल की इस ख़ुशी में पूरे उत्साह के साथ शामिल हैं. इसका सबूत है सोशल मीडिया पर धड़ाधड़ होने वाले पोस्ट, हैशटैग्स और धोनी की चौतरफ़ा चर्चा.

ट्विटर पर #PadmaBhushan सबसे ऊपर ट्रेंड कर रहा है और 'ट्विटर मोमेंट्स इंडिया' भी प्रमुखता से इस ख़बर

तारीफ़:-बहुत से लोग इस बात से भी बेहद ख़ुश नज़र आए कि धोनी ने पद्म भूषण सम्मान लेने सेना की वर्दी पहनकर आए. पूर्व क्रिकेटर वीवीएस लक्ष्मण ने ट्वीट किया, "धोनी जिस गर्व के साथ आज सेना की वर्दी में पद्म भूषण लेने गए, उसे देखना अद्भुत है. वो इस सम्मान के पूरे हक़दार हैं. 2011 की वर्ल्ड कप जीत के ठीक सात सात साल बाद. बधाई!"

ट्विटर पर #PadmaBhushan सबसे ऊपर ट्रेंड कर रहा है और 'ट्विटर मोमेंट्स इंडिया' भी प्रमुखता से इस ख़बर

लक्ष्मण ने वो वीडियो भी शेयर किया है जब धोनी गंभीर मुद्रा में सम्मान लेकर राष्ट्रपति को सैल्यूट करते नज़र आते हैं और कैमरा उनकी पत्नी साक्षी की तरफ़ घूमता है तो वो मुस्कुराते हुए तालियां बजाती नज़र आती हैं. राम प्रवेश ने लिखा, "सेना की वर्दी में सम्मान लेने का फ़ैसला बताता है कि देश के लिए धोनी के इरादे कैसे हैं. सलाम!" एक दूसरे ट्विटर यूज़र ने लिखा, "धोनी का हेलिकॉप्टर शॉट आर्मी यूनिफ़ॉर्म के साथ जंच रहा है." कुछ फ़ैंस ने तो लगे हाथ माही के लिए भारत रत्न की मांग भी कर डाली.लेडी बिल्ला नाम की एक ट्विटर यूज़र कहती हैं, "जिस तरह धोनी पद्भभूषण लेने मार्च करते हुए जाते हैं वो भारतीय सेना के लिए उनके प्रेम और इज़्ज़त को दिखाता है. हर भारतीय के लिए गर्व का पल. माही, हमें आपसे प्यार है."