Yo Diary

झारखंड : कोयले की कालाबाजारी का संदेह, 79 कोल कंपनियों पर आयकर की नजर, जांच के दायरे में ये कंपनियां

रांची :राज्य के आठ जिलों की 79 कंपनियों पर आयकर विभाग की नजर है. इन कंपनियों द्वारा निजी उपयोग के लिए सस्ती दर पर कोयला लेकर उसकी कालाबाजारी किये जाने का संदेह है. जांच के दौरान गौतम कोल द्वारा स्कूटर पर कोयला ढोये जाने का मामला पकड़ में आने के बाद आयकर विभाग ने 79 कंपनियों को जांच के दायरे में शामिल किया है.

इसमें सबसे अधिक धनबाद की 28 कंपनियां और रामगढ़ की 18 कंपनियां शामिल हैं. रांची, लातेहार व पलामू की सात-सात और हजारीबाग की कंपनियों शामिल हैं. ये कंपनियां फार्म 27 भर कर कोयले का उठाव करती हैं. इस फार्म का इस्तेमाल कर निजी उपयोग के लिए कोयला लेने पर एक प्रतिशत की दर से टैक्स नहीं लगता है.

गौतम कोल कंपनी में गड़बड़ी : आयकर विभाग की जांच में पाया गया था कि गौतम कोल कंपनी दो साल से बंद है. इसके बावजूद उसे सस्ती दर (लिंकेज कोल) पर कोयला दिया जा रहा है. कंपनी ने सस्ती दर पर लिये गये कोयले को अपने कारखाने तक ले जाने के लिए ट्रांसपोर्टेशन के दस्तावेज तैयार किये थे. इसमें दर्ज गाड़ियों के नंबरों की जांच परिवहन विभाग से करायी गयी. खुलासा हुआ कि गौतम कोल ने स्कूटर, बाइक और कार से कोयला ढोये थे.

ऐसा व्यावहारिक तौर पर संभव नहीं है. स्कूटर आदि से कोयले की ढुलाई दिखाये जाने से इस बात की आशंका जतायी गयी कि गौतम कोल ने निजी उपयोग के लिए सस्ती दर पर कोयले का उठाव कर उसकी कालाबाजारी की है. जांच के दायरे में कंपनियां गिरिडीह की कंपनी बेसिक फ्यूएल प्राइवेट लिमिटेड हजारीबाग की कंपनियां तंजील रिफ्रेक्ट्रीज, कहकशां इंटरप्राइजेज, जीएन इंडस्ट्रीज, एनए उद्योग, मां अष्टभुजी सिरामिक्स, राजहंस इस्पात प्राइवेट लिमिटेड, झारखंड फ्यूएलस, एसएन कोल ब्रिकेट लातेहार की कंपनियां एसएस सिरामिक्स एंड मिनरल, एमटीजी इंडस्ट्रीज, झारखंड रिफ्रेक्ट्रीज, उग्रतारा रिफ्रेक्ट्रीज, चंदवा सिरामिक वर्कस, शुभ लक्ष्मी इंडस्ट्रीज एंड मिनरल्स पलामू जिले की कंपनियां जय मां भगवती इंटरप्राइजेज, प्रिया इंटरप्राइजेज, गौरव प्रोजेक्ट, पलामू फ्यूएल्स, राहुल इंडस्ट्रीज, मां काली इंटरप्राइजेज, मां कालेश्वरी इंटरप्राइजेज रामगढ़ जिले की कंपनियां क्वालिटी रिफ्रेक्ट्रीज, सुशीला मिनरल प्राइवेट लिमिटेड, सत्यम लाइम एंड प्रोसेसिंग वर्क्स, राम नगर ग्लास वर्क्स, श्री बालाजी सिरामिक्स, बीएम कोक एंड मिन

दून्स सिरामिक्स वर्क्स प्राइवेट लिमिटेड, चौधरी गुल उद्योग, श्री महाबीर रिफ्रेक्ट्रीज वर्क्स, रांची रिफ्रेट्रीज प्राइवेट लिमिटेड, योगेश इंटरप्राइजेज, केसरी इंटरप्राइजेज, साहू इंटरप्राइजेज निजी उपयोग के लिए सस्ती दर पर कोयला लेती हैं ये कंपनियां जांच के दायरे में कहां की कितनी कंपनियां जिला कंपनी रांची 07 रामगढ़ 18 पलामू 07 लातेहार 07 जिला कंपनी हजारीबाग 08 गिरिडीह 01 धनबाद 28 बोकारो 04

बोकारो जिले की कंपनियां : स्वास्तिक फ्यूएल, रूबी कोल ब्रिकेट, कल्याणी गुल उद्योग, विजय कामर्शियल इंडस्ट्रीज धनबाद जिले की कंपनियां : झारखंड सिरामिक, मार्डन फ्यूएल इंडस्ट्रीज, भवानी रिफ्रेक्ट्रीज, मां विंध्यावासिनी इंधन उद्योग, शिव शक्ति इंटरप्राइजेज, रॉयल कोक ब्रिकेट, महाबीर फ्यूएल कोक इंडस्ट्रीज, एमएम सिरामिक्स, न्यू झारखंड सिरामिक्स, रतन ब्रिकेट उद्योग, श्री श्याम उद्योग, कामाख्या फ्यूएल, पंचधाम सॉफ्ट कोक इंडस्ट्रीज, हाजी प्रकाश उद्योग कंपनी, सोनी ट्रेडिंग कंपनी, प्रकाश एसोसिएट, जय मां काली इंडस्ट्रीज, गणपति फ्यूएल, श्री गणेश इंडस्ट्रीज, जय मां काली ईंधन उद्योग, साई मां सिरामिक्स, कल्याणेश्वरी रिफ्रेक्ट्रीज, लक्ष्मी कोक प्लांट, बाबा विश्वनाथ इंडस्ट्रीज, स्टार सॉफ्ट कोक इंडस्ट्रीज, मां तारा इंडस्ट्रीज, इकराम सॉफ्ट कोक इंडस्ट्रीज, बलदेव कंस्ट्रक्शन प्राइवेट लिमिटेड