Yo Diary

रांची : हादसे पर भूल गये पार्टी, दौड़ पड़े सभी, 30 फीट लंबे पाइप में लहराना चाहते थे झंडा, नहीं दिखा

रांची : नव वर्ष को जोश था. पिछले कई दिनों से विपुल और उसके सहयोगी सूरज पांडेय, अभिषेक चौधरी, राजा उर्फ शौर्य राज और चंदन कुमार सहित अन्य सहयोगी तैयारी कर रहे थे. मंगलवार को पूरे उत्साह में सभी अरगोड़ा चौक पर पहुंचे थे. करीब 30 फीट की लोहे की पाइप में नव वर्ष प्रतिपदा का झंडा लहराने के लिए पूरे मनयोग से लगे थे. पाइप में झंडा लगाने के बाद विपुल और उसके साथी पाइप को खड़ा करने का प्रयास कर रहे थे. लेकिन उन्हें यह अंदाजा नहीं था कि जहां पर वे पाइप खड़ा करने की कोशिश कर रहे हैं, उस स्थान के ऊपर में 33 हजार का तार मौत बनकर खड़ा है. पाइप को जैसे ही उनलोगों ने सीधा किया वैसे ही वह बिजली तार की चपेट में आ गया. अचानक पाइप पकड़े आरएसएस के पांचों स्वयं सेवकों के शरीर में करंट दौड़ गया.

फिर किसी तरह सभी को स्थानीय लोगों ने बांस के सहारे करंट से अलग कराया. मौके पर पीसीआर और अरगोड़ा पुलिस की गाड़ी पहुंची. दोनों वाहनों पर पांचों को सेवा सदन अस्पताल ले जाया गया. अस्पताल में इलाज के क्रम में विपुल की मौत हो गयी. इसके बाद उसके चारों दोस्तों को वहां से देवकमल अस्पताल रेफर कर दिया गया. जहां पर तीन घायलों सूरज पांडेय, अभिषेक चौधरी, राजा उर्फ शौर्य राज को आइसीयू में और चंदन को बर्न यूनिट में रखा गया है. सभी की उम्र 20 से 25 साल बतायी जाती है.

विपुल को अपनी नहीं दोस्तों की सता रही थी चिंता,रुक गयी सांस

घटना के बाद विपुल खुद को ठीक-ठाक बता रहा था. उसे अपने दोस्तों की चिंता थी. बार-बार वह दोस्तों के बारे में पूछ रहा था. इसी क्रम में अस्पताल पहुंचने पर वह बेहोश हो गया. उसकी सांसें थम गयी. चिकित्सकों ने उसकी जांच कर बताया कि विपुल अब नहीं रहा.

हादसे पर भूल गये पार्टी, दौड़ पड़े सभी

घटना की सूचना मिलते ही भाजपा, कांग्रेस, आरएसएस, विश्व हिंदू परिषद, महावीर मंडल, बजरंग दल सहित कई पार्टियों और संगठनों के लोग घायलों का हाल लेने के लिए अस्पताल पहुंचने लगे. सेवा सदन अस्पताल में कुछ लोग आक्रोशित भी हो गये. देवकमल अस्पताल में भी रात भर गहमा-गहमी रही. वारदात के बाद से ही एहतियात के तौर पर अरगोड़ा चौक पर पुलिस की तैनाती कर दी गयी. नेताओं में विधायक नवीन जायसवाल, संजय सेठ, अजय नाथ शाहदेव, जय सिंह यादव, मुनचुन राय, पुष्कर, ललित ओझा समेत दर्जनों लोग पहुंचे थे.

हादसे पर भूल गये पार्टी, दौड़ पड़े सभी