Yo Diary

झारखंड : मुख्यमंत्री ने उपायुक्तों को दिया निर्देश, छोटे कामों के लिए पत्राचार में समय न बितायें

रांची :मुख्यमंत्री ने निर्देश दिया कि इस तरह के जितने भी भवन हैं, उनके बारे में पता कर काम पूरा कराया जाये. उपायुक्त रांची की ओर से बताया कि स्वास्थ्य उपकेंद्र का काम खिड़की, दरवाजा व रंगाई-पुताई की वजह से लटका हुआ है. विभाग से पत्राचार किया जा रहा है. इसी प्रकार लातेहार बरवाडीह प्रखंड में बालिका छात्रावास निर्माण के मामले में भी मुख्यमंत्री ने अनटाइड फंड से निर्माण कार्य पूरा करने का निर्देश दिया. उन्होंने कहा कि अप्रैल तक काम पूरा कर लिया जाये.

जल्द बसाये जायेंगे लातेहार के विस्थापित

लातेहार में विस्थापितों को सिर्फ जमीन की रसीद दी गयी. अब तक दखल-कब्जा नहीं दिये जाने के कारण लोग सात वर्षों से झुग्गी-झोपड़ी बनाकर रहने को विवश है. इसकी शिकायत पर उपायुक्त ने कहा कि नगर पंचायत के जरिये सर्वे करा लिया गया है. चार जगह चिह्नित कर लिये गये हैं. विस्थापितों के पुनर्वास का काम जल्द शुरू हो जायेगा. मुख्यमंत्री ने शिकायतकर्ता को आश्वस्त करते हुए कहा कि सबको जल्द बसाने का प्रबंध किया जायेगा.

काम कराया है, तो पैसा भी दें

धनबाद के बाघमारा प्रखंड में वर्ष 2015 में डाटा इंट्री का कार्य जिला परिषद द्वारा कराया गया, लेकिन 13वें वित्त की राशि खत्म होने की बात कह कर अब तक मानदेय का भुगतान नहीं किया गया है. कहा गया कि 14 वें वित्त से मानदेय का भुगतान नहीं किया जा सकता. मुख्यमंत्री ने उपायुक्त से कहा कि राज्य में बहुत से काम मौखिक स्तर पर कराये जाते हैं. अगर सरकारी स्तर पर काम कराया गया है, तो उसका मानदेय कैसे रोका जा सकता है? उन्होंने कहा कि काम कराया है, तो पैसा भी दें. उपायुक्त को जल्द मानदेय राशि के भुगतान का आदेश दिया.

जनजातीय क्षेत्र में आंगनबाड़ी केंद्र नहीं होना दुर्भाग्यपूर्ण

गोड्डा के तेलडीहा गांव में पिछले आठ माह से अब तक आंगनबाड़ी केंद्र नहीं होने की शिकायत पर मुख्यमंत्री ने उपायुक्त, गोड्डा से कहा कि जनजातीय क्षेत्र में आंगनबाड़ी केंद्र नहीं होना दुर्भाग्यपूर्ण है. इसका तुरंत बजट बनाकर भेजिये. सुनील कुमार बर्णवाल ने कहा कि मिनी आंगनबाड़ी का भी प्रावधान है, तब तक इसे भी खोल कर काम शुरू कराया जा सकता है. तेलडीहा गांव में 600 की आबादी है. आंगनबाड़ी केंद्र नहीं होने से महिलाएं सरकार की योजनाओं का लाभ नहीं उठा पाती हैं.

जनजातीय क्षेत्र में आंगनबाड़ी केंद्र नहीं होना दुर्भाग्यपूर्ण

गोड्डा के बोआरीजोर प्रखंड के दिव्यांग धीरज कुमार साह को पिछले पांच साल से नियमित रूप से पेंशन भुगतान नहीं होने की शिकायत पर मुख्यमंत्री ने उपायुक्त से कहा कि इतने छोटे-छोटे काम के लिए एक दिव्यांग को यहां आना पड़े, यह दुखद है. उन्होंने उपायुक्त को एक सप्ताह के अंदर पेंशन भुगतान का आदेश दिया. उन्होंने बैंक में पैसे नहीं आने पर शिकायतकर्ता से फिर 181 पर फोन करने को कहा

लाभुकों की बकाया राशि के भुगतान का निर्देश:-रांची के सोनाहातू प्रखंड के सभी गांवों में किसानों द्वारा 419 डोभा का निर्माण कार्य पूरा हो जाने के बाद 323 लाभुकों को राशि का भुगतान कर दिया गया. लेकिन, शेष 96 लाभुकों को डेढ़ साल बाद भी कार्यालय का चक्कर लगाने के बावजूद अब तक राशि नहीं मिलने की शिकायत पर उपायुक्त ने कहा कि कार्रवाई के लिए लिखा गया है. 2018-19 के बजट में इसका प्रावधान किया गया है. इस पर मुख्यमंत्री ने कहा कि हर हाल में शेष लाभुकों का भुगतान हो जाना चाहिए.