Yo Diary


The Quotes are powered by Investing.com India

ब्रेंट क्रूड हुआ 70 डॉलर के पार, महंगा हो सकता है पेट्रोल और डीजल

नई दिल्ली (बिजनेस डेस्क)।पेट्रोल-डीजल के मोर्चे पर आम आदमी के लिए एक बुरी खबर है। ब्रेंट क्रूड ने इस साल (साल 2018) दूसरी बार 70 का आंकड़ा पार किया है। इससे पहले ब्रेंट क्रूड 31 जनवरी को 70 डॉलर का आंकड़ा पार कर 70.97 के स्तर तक जा पहुंचा था। जानकारों का मानना है कि अगर क्रूड में यह बढ़त जारी रही तो आने वाले दिनों में पेट्रोल-डीजल के दामों में इजाफा देखने को मिल सकता है।

ब्रेंट क्रूड अगर और बढ़ा तो क्या होंगे कारण:

केडिया कमोडिटी के प्रमुख अजय केडिया ने बताया कि क्रूड में अभी और विस्तार देखने को मिल सकता है। अगर इसके कारणों की बात की जाए तो इसमें ओपेक देशों की ओर से प्रोडक्शन कट को जारी रखना, अमेरिकी फेड रिजर्व की ओर से ब्याज दरों में इजाफा, मिडिल ईस्ट की मौजूदा स्थिति और रुपए में जारी गिरावट को माना जा सकता है। हालांकि अगर एक दो दिन की बात की जाए तो रुपए में सुधार दिखा है लेकिन अगर हम बीते एक या दो महीने के प्रदर्शन देखेंगे तो रुपया लगातार कमजोर हो रहा है।

क्रूड की मौजूदा स्थिति:

डब्ल्यूटीआई क्रूड मौजूदा समय में 0.74 फीसद की गिरावट के साथ 65.39 के स्तर पर कारोबार कर रहा है। वहीं ब्रेंट क्रूड 0.58 फीसद की गिरावट के साथ 70.04 के स्तर पर कारोबार कर रहा है।

कहां तक जा सकता है ब्रेंट:

आर्थिक तंगी की वजह से वेनेजुएला के प्रोडक्शन में कमी आना, ईरान पर पाबंदी और सऊदी समेत तमाम देशों के बीच जारी जियो पॉलिटिकल टेंशन महंगे क्रूड की वजह हैं। केडिया ने बताया कि इन्हीं वजहों के कारण क्रूड मार्च के अंत तक 63 से 73 डॉलर के दायरे में कारोबार कर सकता है।

कहां तक जा सकता है ब्रेंट: