Yo Diary


The Quotes are powered by Investing.com India

आज ही अपडेट करा लें मोबाइल वॉलेट की KYC, वरना डूब जायेगा आपका पैसा...

नयी दिल्‍ली :अगर आप भी पेटीएम, एयरटेल मनी, जियो मनी, मोबिक्विक, ओलामनी, फ्रीचार्ज जैसे मोबाइल वॉलेट के यूजर हैं और आपने उसमें अपना एक भी रुपया रख छोड़ा है, तो यह खबर आपके काम की है. दरअसल, मोबाइल वॉलेट सर्विस प्रोवाइडर कंपनियाें के लिए भारतीय रिजर्व बैंक ने KYC अपडेट कराने की गाइडलाइन जारी की है, जिसकी आखिरी तारीख आज, यानी 28 फरवरी है.

KYC को जानें

मोटे शब्दों में कहें, तो KYC यानी 'नो योर कस्टमर' या 'अपने ग्राहक को जानें', वह प्रक्रिया होती है जिससे सर्विस प्रोवाइडर्स अपने ग्राहक/यूजर्स को ज्यादा पुख्ता तरीके से जान पाते हैं. इसके लिए यूजर को कुछ जरूरी डॉक्यूमेंट्स के जरिये अपनी डीटेल देनी होती है.

केवल आज का मौका

ऐसे में अगर आप भी मोबाइल वॉलेट यूज करते हैं और आपने अब तक अपना KYC अपडेट नहीं कराया है, तो आपके लिए केवल आज का मौका है. अगर आप मोबाइल वॉलेट की सर्विस बिना रुकावट आगे भी जारी रखना चाहते हैं, तो आज ही अपने सर्विस प्रोवाइडर के साथ अपना KYC अपडेट करा लें. अगर आपने आज यह काम नहीं कराया तो मोबाइल वॉलेट में पड़ा आपका पैसा फंस जायेगा.

RBI ने कह दिया, नहीं बढ़ेगी डेडलाइन

आरबीआइ ने पहले ही साफ कर दिया है कि मोबाइल वॉलेट को KYC से जोड़ने की आज यानी 28 फरवरी की डेडलाइन को और आगे नहीं बढ़ायेगी. बीते सोमवार को आरबीआइ ने कहा कि यूजर्स अपने पैसे को बैंक खाते में भी ट्रांसफर कर सकते हैं. बता दें कि केवाइसी के लिए पहले 31 दिसंबर, 2017 तक का समय दिया गया था. बाद में यह समयसीमा बढ़ा कर 28 फरवरी 2018 की गयी.

RBI ने कह दिया, नहीं बढ़ेगी डेडलाइन

फिलहाल, देशभर में 10 फीसदी से कम मोबाइल वॉलेट यूजर्स ने ही अपना केवाइसी अपडेट कराया है. ऐसे में पूरे देश में 90 प्रतिशत से ज्यादा मोबाइल वॉलेट अकाउंट बिना केवाइसी के चल रहे हैं. अब इन 90 प्रतिशत यूजर्स के अकाउंट्स पर बंद होने का खतरा मंडरा रहा है.

मोबाइल वॉलेट का KYC ऐसे करायें अपडेट:- सबसे पहले अपने Paytm मोबाइल वॉलेट में लॉग-इन कर केवाइसी या फिर लिंक आधार आइकॉन पर जायें. इसके बाद प्रोसीड पर क्लिक करने पर एक नया पेज खुलेगा, जिसमें आधार नंबर और उस पर मौजूद अपना नाम डालकर 'प्रोसीड' करें. अब KYC ऑप्‍शन चुनें. इसमें आपको दो विकल्प नजर आयेंगे - 'रिक्‍वेस्‍ट ए विजिट' और 'विजिट ए केवाइसी सेंटर'. अगर आप 'रिक्‍वेस्‍ट ए विजिट' ऑप्‍शन चुनेंगे, तो इसमें Paytm आपके घर पर अपना एजेंट भेजेगा. इसके लिए आपको अपना नाम, पता डालना होगा. इसके बाद आपको Paytm की तरफ से कॉल आयेगी और एजेंट के साथ अपॉइंटमेंट बुक की जायेगी. अगर आप दूसरा ऑप्‍शन यानी 'विजिट ए KYC सेंटर' चुनते हैं, तो आपके पास के KYC सेंटर्स की लिस्‍ट सामने आयेगी. इस लिस्ट में आप अपने सुविधानुसार सेंटर चुन लें. वहां आधार या अनरू जरूरी डॉक्यूमेंट्स प्रस्तुत कर KYC अपडेट करा लें. इसके बाद आपका मोबाइल वॉलेट सुरक्षित हो जायेगा.