Yo Diary


The Quotes are powered by Investing.com India

न्यूयॉर्क / ब्रिटिश कलाकार की 46 साल पुरानी पेंटिंग रिकॉर्ड 648 करोड़ रुपए में बिकी

न्यूयॉर्क.ब्रिटिश कलाकार डेविड हॉकनी (81) की पेंटिंग 648 करोड़ रुपए (9 करोड़ डॉलर) में बिकी। यह किसी जीवित कलाकार की पेंटिंग के लिए दुनिया की सबसे बड़ी बोली है। पॉट्रेट ऑफ एन आर्टिस्ट (पूल विद दू फिगर्स) टाइटल की यह पेंटिंग हॉकनी ने साल 1972 में बनाई थी। क्रिस्टीज ऑक्शन हाउस ने शुक्रवार को इसे नीलाम किया। इससे पहले जैफ कून्स की बैलून डॉग (ऑरेंज) साल 2013 में 5.9 करोड़ डॉलर में बिकी थी।

10 मिनट में बिक गई पेंटिंग

पूल विद टू फिगर्स के लिए 129.6 करोड़ रुपए (1.8 करोड़ डॉलर) से बोली शुरू हुई। दस मिनट में बोली 9 करोड़ डॉलर पहुंच गई। क्रिस्टीज ऑक्शन हाउस ने इसे मास्टरपीस का दर्जा दिया। क्रिस्टीज ने उम्मीद जताई थी कि यह 8 करोड़ डॉलर में बिक सकती है।

क्रिस्टीज ने यह नहीं बताया कि हॉकनी की पेंटिंग को किसने खरीदा और इसका आखिरी मालिक कौन था। हॉकनी की पेंटिंग 'पेसिफिक कॉस्ट हाईवे एंड सांता मोनिका' साल 1990 में 2.84 करोड़ डॉलर में बिकी थी।

पूल विद दू फिगर्स 46 साल पहले 18 हजार डॉलर में बिकी थी

हॉकनी ने पूल विद दू फिगर्स को 6 महीने में तैयार किया था। साल 1972 में हॉकनी के डीलर ने यह पेंटिंग सिर्फ 18 हजार डॉलर में बेची थी। पिछले साल सीएनएन को दिए इंटरव्यू में हॉकनी ने कहा था कि 1972 में उन्हें 18 हजार डॉलर की रकम भी बहुत ज्यादा लगी थी। लेकिन, 6 महीने बाद ही पूल वाली पेंटिंग 50 हजार डॉलर में बिक गई थी।

पूल विद दू फिगर्स 46 साल पहले 18 हजार डॉलर में बिकी थी