Yo Diary


The Quotes are powered by Investing.com India

रिकॉर्ड: पहली बार रिलायंस का मार्केट कैप आठ लाख करोड़ के पार

शेयर में 1.86 बढ़ोतरी से कंपनी का कीर्तिमान

रिलायंस इंडस्ट्रीज और टाटा कंसलटेंसी सर्विसेज (टीसीएस) के बीच अधिक हैसियत को लेकर पिछले कई दिनों से चल रही जंग में मुकेश अंबानी की रिलायंस ने केवल अगस्त माह में टीसीएस को चौथी बार पछाड़ कर आठ लाख करोड़ रुपये के मार्केट वैल्यू की पहली कंपनी बन कर इतिहास रच दिया. यह उपलब्धि हासिल करनेवाली वह पहली भारतीय कंपनी बन गयी.

रिलायंस का शेयर गुरुवार को 1.86 प्रतिशत मजबूत होकर रिकॉर्ड 1,269.70 रुपये पर पहुंच गया. टीसीएस का मार्केट कैप 7,77,870 करोड़ रुपये रहा. पिछले माह जुलाई में रिलायंस 11 साल के बाद 100 अरब डॉलर के मार्केट कैप को पार करनेवाली पहली कंपनी बनी. पांच जुलाई को कंपनी के 41 सालाना बैठक में रिलायंस चेयरमैन मुकेश अंबानी ने कहा कि रिलायंस को 2025 तक दोगुना करने का लक्ष्य रखा है. इस मार्ग पर वह तेजी से बढ़ रहे हैं. सेंसेक्स में एक साल में रिलायंस के शेयर जहां 60 प्रतिशत चढ़े हैं, वहीं टीसीएस ने 63 प्रतिशत की लंबी छलांग लगायी है. लेकिन निफ्टी सूचकांक में रिलायंस की 18 प्रतिशत की सालाना बढ़ोतरी ने उसे इतिहास की बुलंदियों पर पहुंचाया है. इससे पहले सोमवार को रिलायंस ने मार्केट कैप में टीसीएस को फिर पीछे छोड़ कर फिर भारत की सबसे मूल्यवान कंपनी बन गयी है. सोमवार को कारोबार बंद होने के समय रिलायंस का शेयर 1,206.50 रुपये पर खुलने के बाद 52 सप्ताह के उच्चस्तर 1,238.05 रुपये तक गया. कारोबार बंद होने के समय रिलायंस का शेयर 2.61 प्रतिशत की बढ़त के साथ 1,234.90 रुपये पर था.

अनिल अंबानी ने जियो को बेचा 2,000 करोड़ का असेट्स

रिलायंस कम्युनिकेशंस (आरकॉम) के ‘मीडिया कंवर्जेंस नोड्स’ (एमसीएन) और इससे जुड़े इन्फ्रास्ट्रक्चर की रिलायंस जियो को बिक्री का काम पूरा हो गया है. आरकॉम ने यह बिक्री 2,000 करोड़ रुपये में की है. 50 लाख वर्गफुट क्षेत्र के दायरे को सेवा देनेवाले 248 नोड्स अब जियो के हो चुके हैं. इन नोड्स का उपयोग टेलीकॉम सर्विस के बुनियादी ढांचे को आपस में जोड़े रखने के लिए किया जाता है.मीडिया नोड्स टेलीकॉम और मीडिया उद्योग में उपयोग होनेवाली प्रमुख प्रणाली है. यह कारोबार से जुड़ी विभिन्न सेवाओं जैसे कि इंटरनेट, कंटेट, कम्युनिकेशन के प्रकार इत्यादि को एकीकृत करने का काम पूरा करती है.

अनिल अंबानी ने जियो को बेचा 2,000 करोड़ का असेट्स