Yo Diary


The Quotes are powered by Investing.com India

पढ़ाई में नहीं लगा मन, शुरू किया खुद का बिजनेस, बना करोड़पति

कहते हैं जो इंसान जीवन में कुछ करना चाहते हैं वह थोड़े से खुश नहीं थे. उनके मन में कुछ कर दिखाने का जुनून हमेशा रहता है. आज की कहानी एक ऐसे शख्स की है जो नौकरी के लिए भटकता था लेकिन फिर शुरू कर दिया खुद का बिजनेस...

इस शख्स का नाम संतोष गुप्ता है और ये इलाहाबाद के रहने वाले हैं. अपने मेहनत के दम पर इन्होंने केबल टीवी बिजनेस शुरू किया. आज उनके इस बिजनेस का टर्नओवर सालाना करोड़ों में हैं.

जानें- कैसे शुरू किया बिजनेस...

संतोष पढ़ाई में अव्वल थे. 12वीं कक्षा पास करने के बाद साल 1995 में एनडीए का फॉर्म भरा और परीक्षा भी पास कर ली. लेकिन जब ट्रेनिंग के लिए भी कॉल आया तो किन्हीं वजहों से उनका नाम वेंटिग लिस्ट में नहीं था. जिसके बाद उनका मन पढ़ाई में पूरी तरह हट गया. पर घर वालों के दबाव की वजह से 1996 में इलाहाबाद यूनिवर्सिटी में बीकॉम में एडमिशन तो ले लिया लेकिन वह परीक्षा देने नहीं गए. जिस वजह से उनका एक साल खराब हो गया. फिर उन्होंने अपनी ग्रेजुएशन डिस्टेंस से की. ग्रेजुएशन के दौरान उन्होंने सोचा क्यों न खुद का बिजनेस शुरू किया जाए.

स्टार्टअप में ये आई दिक्कतें...

संतोष बिजनेस तो शुरू करना चाहते थे, लेकिन उन्हें इस बात की बिल्कुल समझ नहीं थी कि किस तरह का बिजनेस खोला जाए और किसमें ज्यादा फायदा होगा. वहीं हर घरवालों की तरह उनके घरवाले भी चाहते थे कि वह सरकारी नौकरी करें. इस वजह से वह अपने परिवार से भी पैसे नहीं मांग सकते थे.

स्टार्टअप में ये आई दिक्कतें...

जिस समय संतोष बिजनेस शुरू करना चाहते थे उस वक्त टीवी केबल का काफी बोलबाला था. वह ये बात बखूबी जानते थे कि बिजनेस शुरू करने के लिए पहले पैसे चाहिए होंगे. जिसके बाद उन्होंने केबल लगाने का काम सीखने लगे. जब वह केबल लगाने के काम सीखते थे इस बात की खबर उनके घरवालों को नहीं थी. वह केबल से संबंधित सारी जानकारियां धीरे-धीरे हासिल करने लगे. शुरू में लोगों का केबल ठीक करने के बदले में 300 रुपए मिलने लगे. उन्होंने बताया- ''सीढ़ी उठाकर लोगों के घर जाना और उनकी प्रॉब्लम सॉल्व करना मुझे अच्छा लगने लगा''. धीरे- धीरे मैंने इस काम में महारत हासिल कर ली. अपनी मेहनत और बेहतरीन आइडिया के दम पर बढ़ते-बढ़ते उनके केबल के बिजनेस में ऐसी सफलता मिली कि एक दिन उन्हें उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और गायिका अल्का याज्ञिक के साथ भी वक्त बिताने का अवसर मिला. आज पैसा और शोहरत दोनो उनके पास है.

उन्हें केबल टीवी नेटवर्क बिछाने में स्थानीय लोगों के हस्तक्षेप का भी सामना करना पड़ा लेकिन उन्होंने अपने स्टार्टअप को बुलंदियों पर पहुंचा दिया. आज उनके इस काम में सालाना करोड़ों से भी ज्यादा का टर्नओवर है.