Yo Diary

Offer Price 98/-

जीतनराम मांझी का बड़ा बयान-हर हाल में लड़ेंगे जहानाबाद सीट से, चाहे कुछ हो जाए

पटना [जेएनएन]। हम के अध्यक्ष जीतनराम मांझी ने बड़ा बयान देते हुए कहा है कि हर हाल में हम जहानाबाद सीट से उपचुनाव लड़ेंगे, चाहे इसके लिए कुछ भी हो जाए। उन्होंने कहा कि इसके लिए अगर हमें बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से भी बात करनी पड़े तो करेंगे। आज पटना में अपने आवास पर हम की कोर कमिटी की बैठक में मांझी ने ये बातें कहीं और कहा कि 8 अप्रैल को पार्टी के सम्मेलन में पांच लाख लोग जुटेंगे। बैठक में पार्टी के वरिष्ठ नेता, प्रदेश अध्यक्ष, सहित कई नेता मौजूद थे। बैठक में विधान सभा उपचुनाव और पार्टी की मजबूती को लेकर चर्चा हुई।

इससे पहले कल खगड़िया में मांझी ने बिहार की नीतीश सरकार की आलोचना कर राजनीतिक कयासों को जन्‍म दे दिया था। मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार का नाम लिए बिना उन्‍होंने कहा कि जब मुख्‍यमंत्री रहते उन्‍होंने गरीबों के हित में काम करना शुरू किया, तो कुर्सी ही छीन ली गई। उन्होंने कहा कि समस्याओं के समाधान के लिए विधानसभा में गरीबों का प्रतिनिधि होना चाहिए। मांझी ने कहा कि आजादी के दशकों बीत जाने के बाद भी गरीबों के प्रति हमदर्दी रखने वाले नेताओं की कमी रही है। इस राज्य में भोला पासवान शास्त्री, रामसुंदर दास व जीतनराम मांझी को मुख्यमंत्री बनाया गया। लेकिन, तीनों दलित मुख्यमंत्री राजनीतिक संकट को दूर करने के लिए बनाए गए थे। वे विधायकों द्वारा चुने नहीं गए थे। यही कारण है कि जब भी ऐसे मुख्यमंत्री काम करना चाहते हैं, तो उन्हें हटा दिया जाता है।

मांझी ने कहा कि मुख्यमंत्री बनने के चार माह तक ताक-झांक में बीत गया। लेकिन, जब असल में कार्य शुरू किया, तो सिपाही से डीजीपी तक व चपरासी से प्रधान सचिव तक ने विरोध करना शुरू कर दिया।