Yo Diary

Offer Price 98/-

लग्न और गर्मी से फलों के दाम 30 फीसदी तक बढ़े

पटना : लगन और गर्मी में फलों की डिमांड बढ़ने और सप्लाई कम होने से एक बार फिर फलों के दाम में 30 फीसदी की वृद्धि हुई है. बीते पांच छह दिनों में फलों का रेट बढ़ गया है. कारोबारियों की मानें तो जैसे-जैसे गर्मी बढ़ेगी वैसे-वैसे फलों की कीमत में भी इजाफा होगा. व्यापारियों के अनुसार पटना के थोक फल मंडी में बाजार समिति में माल आना कम हो गया है, लेकिन फल के मांग बढ़े हैं. इस कारण फल के भाव बढ़ रहे हैं, हालांकि कई जगहों पर दाम अलग-अलग है.

मौसमी फलों से पटा बाजार: बाजार में इस समय मौसमी फल तरबूज, खरबूजा, आम व खीरा से बाजार पटा हुआ है. हालांकि आम अभी केवल शहर के प्रमुख फल दुकानों में ही देखने को मिल रहा है, जो दक्षिण भारत और महाराष्ट्र से लाये गये हैं. फिलहाल इनकी कीमत 150 से लेकर 300 रुपये प्रति किलो है. वहीं तरबूज 20-25 रुपये तो खरबूजा 30 से 40 रुपये प्रति किलो बिक रहा है. गर्मी में जल्दी खराब होते हैं फल : फल विक्रेता असलम आलम के अनुसार इस समय अंगूर, संतरा, मौसमी और अनार की मांग अधिक है. गरमी बढ़ने के कारण माल अभी कम मंगा रहे हैं, क्योंकि ये फल दो-तीन दिन बाद खराब हाेने लगता है. इस कारण फलों के दाम में इजाफा हो रहा है. आसपास कोल्ड स्टोरेज नहीं होने के कारण फल लंबे समय पर संरक्षित नहीं रह पाता है. इससे कारोबारियों को भारी नुकसान उठाना पड़ता है. इसी नुकसान से बचने के लिए कारोबारी कम फल मंगा रहे हैं.

केले के भाव में वृद्धि

सबसे अधिक बढ़ोतरी केला के भाव में है. दो दिन पहले तक 30-40 रुपये प्रति दर्जन बिक रहा केला अब 40 से 50 रुपये प्रति दर्जन हो गया है. वहीं संतरा का भाव 60 रुपये से बढ़ कर 80-85 रुपये किलो के स्तर पर पहुंच गया है. इसके अलावा अंगूर 90-100 से बढ़ कर 120-140 रुपये प्रति किलो, मौसमी 50 से बढ़ कर 65 रुपये, पपीता 30 से बढ़ कर 40-45 रुपये प्रति किलो पहुंच गया है. अमरूद 80 रुपये से बढ़ कर 100-120 रुपये किलो बिक रहा है. वहीं, अनार का दाम 120 रुपये प्रति किलो से बढ़ कर 150 रुपये हो गया है. सेब 150 से बढ़ कर 180-200 रुपये प्रति किलो बिक रहा है.