Yo Diary

Offer Price 98/-

बिहार : देर रात टर्मिनल से बाहर निकलते ही यात्रियों को होने लगी ये परेशानी, सुरक्षा को लेकर चिंतायें

पटना : सोमवार को देर रात पटना एयरपोर्ट का माहौल बदला हुआ था. रविवार को ओवर नाइट सेवा के परिचालन का पहला दिन होने के कारण देर रात तक एयरपोर्ट ऑथिरिटी के वरीय अधिकारी खुद टर्मिनल में मौजूद थे और गायन वादन के बीच यात्रियों का स्वागत गुलाब के फूलों से किया जा रहा था, वहीं सोमवार को माहौल पूरी तरह खामोश दिखा. सड़कें सुनसान हो जाने के भय से ज्यादातर यात्री रात 10 तक टर्मिनल भवन में आ चुके थे. हालांकि पटना पुणे फ्लाइट के आगमन का समय रात 1.20 था. जाने वाले यात्रियों की तुलना में पुणे से पटना आनेवाले यात्रियों को और अधिक परेशानी हुई. टर्मिनल भवन के बाहर निकलने पर उन्हें टैक्सी और ऑटो के लिए लंबा इंतजार करना पड़ा क्योंकि दिन की तुलना में इनकी संख्या बहुत कम थी.

देर रात यातायात के साधनों की दिखती कमी : दिल्ली, मुंबई और कोलकाता जैसे बड़े महानगरों में शहर रात भर जागता रहता है. इस वजह से वहां ऑटो-टैक्सी जैसे यातायात के साधन और अन्य जरूरी सुविधाएं रात भर मिलती हैं. लेकिन पटना में रात 11 से सुबह पांच बजे तक ऐसी सुविधाएं बहुत कम मिलती हैं. अत: लोग देर रात यात्रा करने से बचते हैं. सुरक्षा को लेकर भी चिंताएं : विमान कंपनियों के कम रुचि प्रदर्शित करने की एक वजह लोगों के बीच देर रात मूवमेंट के दौरान सुरक्षा को लेकर चिंतायें भी हैं. ऊपर आसमान और टर्मिनल के भीतर तो किसी तरह की असुविधा नहीं होती, लेकिन बाहर निकलते ही समस्याएं शुरू हो जाती है. सड़कें सुनसान होने की वजह से यात्रियों के लुटने का भय भी रहता है.

रात्रि उड़ान को लेकर सड़कों पर बढ़ायी जायेगी गश्ती

पटना : पटना एयरपोर्ट से शुरू की गयी रात्रि उड़ान सेवा के बाद पटना पुलिस ने एयरपोर्ट से जुड़ने वाले सभी सड़कों पर सुरक्षा इंतजाम कड़े करने की तैयारी में है. एयरपोर्ट से राजाबाजार मोड़, चितकोहरा पुल से पहले पटेल गोलंबर समेत अन्य इलाकों में पुलिस की गश्ती बढ़ायी जायेगी. देर रात की फ्लाइट से लैंड करने वाले यात्रियोें के साथ किसी प्रकार की घटना नहीं हो और वह सुरक्षित अपने स्थान पर पहुंच जायें, इसके लिए पुलिस को मुस्तैद किया जायेगा. एसएसपी मनु महाराज ने कहा कि गश्ती तो होती है लेकिन अब और गश्ती टीमें बढ़ा दी जायेगी. यहां के सूनसान वाले इलाके और बिना लाइटिंग वाले इलाकों पर नजर रखी जायेगी. पेट्रोलिंग पार्टी मौजूद रहेगी, ताकि लोग सुरक्षित महसूस करें.

एयरपोर्ट इलाके में मुख्य सड़कों पर पटना पुलिस की तरफ से सीसीटीवी कैमरे लगाये गये हैं. लेकिन, कुछ जगहों पर रात में अंधेरा छाया रहता है और वहां कैमरा भी नहीं है. इसलिए ऐसे जगहों को चिह्नित किया जायेगा. लाइटिंग के लिए जिला प्रशासन व नगर निगम को लिखा जायेगा और सीसीटीवी पुलिस लगवायेगी. इससे दिन और रात में होने वाली किसी प्रकार की गतिविधि को कैमरे में कैद किया जा सकेगा. यहां बता दें कि अब देर रात लोग फ्लाइट से उतरेंगे और राजधानी में अपने निवास स्थान या होटल में जायेंगे. एयरपोर्ट के बाहर देर रात में उनकी सुरक्षा को लेकर पटना पुलिस ने कमर कस लिया है.