Yo Diary

Offer Price 98/-

अब बिहार को विशेष राज्य का दर्जा देने के सवाल पर बोले CM नीतीश, हमने नहीं छोड़ा मुद्दा, लेकिन, रोज ब

पटना : बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि बिहार को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग हम लगातार करते रहे हैं. हम पिछले करीब दस वर्षों से बिहार को विशेष राज्य का दर्जा दिये जाने की मांग केंद्र सरकार से करते आ रहे हैं. इस मुद्दे को हमने नहीं छोड़ा है. कुछ लोग इस मुद्दे को रोज उछाल रहे हैं. लेकिन, हम इस मुद्दे पर चुप हैं. हम हर रोज इसी मुद्दे पर बात नहीं करना चाहते हैं.

इससे पहले जदयू प्रवक्ता व विधान पार्षद नीरज कुमार ने कहा था कि वर्ष 2005 में जदयू के सत्ता में आने के बाद से ही बिहार को विशेष राज्य का दर्जा दिये जाने की मांग हमारी पार्टी करती आ रही है. हम आगे भी इसकी मांग करते रहे हैं. नीरज कुमार ने राजद पर पलटवार करते हुए कहा कि आज राजनीतिक लाभ के लिए भ्रष्टाचार के मामले में सजा काट रहे राजद के अध्यक्ष लालू प्रसाद को जेल में बिहार को विशेष राज्य का दर्जा दिलाने की याद आ रही है, लेकिन उनकी पार्टी ने अब तक क्या किया, यह भी उन्हें बताना चाहिए? राजद जब केंद्र में सहयोगी दल के रूप में शामिल था, उससमय बिहार में भी सत्ता में थी. ऐसे समय में तो वे अपनी संपत्ति बनाने में लगे रहे. जब दोनों जगह से लोगों ने सत्ता को छीन लिया, तब उन्हें बिहार की भलाई की बात याद आ रही है.

बिहार को विशेष राज्य का दर्जा दिये जाने को लेकर नीतीश कुमार ने केंद्र पर बनाया दबाव

वर्ष 2005 में नीतीश कुमार ने विशेष राज्य का दर्जा दिये जाने को लेकर तत्कालीन प्रधानमंत्री को भेजा मेमोरंडम बिहार को विशेष राज्य का दर्जा दिये जाने के लिए बिहार विधानसभा से सर्वसम्मति से पास कराया प्रस्ताव 17 मार्च, 2013 को दिल्ली के रामलीला मैदान में की अधिकार रैली केंद्र सरकार को सौंपे बिहार के 1.25 करोड़ लोगों के हस्ताक्षरयुक्त आवेदन पत्र