Yo Diary

Offer Price 98/-

बिहार : इस साल के अंत तक हर घर में पहुंच जायेगी बिजली,बाल विवाह व दहेज प्रथा भी करेंगे खत्म : नीतीश

खगड़िया :मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अप्रैल तक हर टोले में और इस साल के अंत तक हर घर में बिजली पहुंचाने की घोषणा करते हुए कहा कि बिहार को शीर्ष पर पहुंचाने के लिए सरकार दिन रात काम कर रही है. रविवार को सोनवर्षा घाट पर पहुंच कर चार महत्वपूर्ण योजनाओं की आधारशिला रखने के बाद सीएम ने कहा कि उनकी यात्रा का मुख्य उद्देश्य जनता की जरूरतों को जान कर उनके चेहरे पर खुशहाली लाने के लिए सरकारी स्तर पर प्रयास को तेज करना रहता है. चौथम प्रखंड के सोनवर्षा घाट पर बाढ़ से बचाव के लिए चार योजनाओं के शिलान्यास के बाद सीएम ने कहा कि वे जहां भी जाते हैं वहां यही जानने का प्रयास करते हैं कि लोगों की इच्छाएं व जरूरतें क्या हैं.

लोगों की इच्छाओ को भांप कर सरकार योजना बनाती है. इन योजनाओं को दृढ़ संकल्प के साथ जमीन पर उतारा जाता है. लोगों की जरूरतों को ध्यान में रखकर ही सात निश्चय योजना व महिलाओं की मांग पर शराबबंदी लागू की गयी, जो आज लोगों के लिए वरदान साबित हो रहा है. लोगों के घरों तक बिजली, पक्की सड़क तथा नल का जल पहुंच रहे हैं. सीएम ने कहा कि सात निश्चय के तहत तेजी से काम हो रहे हैं. मुख्यमंत्री ने कहा कि हर गांव तक बिजली पहुंचा दी गयी है. अब अप्रैल तक हर टोले तथा साल के अंत तक हर घरों में बिजली पहुंचाने का लक्ष्य रखा गया है

जनता के सहयोग से समाप्त होगी सामाजिक कुरीति

सीएम ने कहा कि न्याय के साथ विकास ही उनका मूल एजेंडा है. अपने 20 मिनट के संबोधन में सीएम ने विकास के आयामों को सामाजिक सुधार की कड़ियों से जोड़ते हुए कल्पना को हकीकत में बदलने के लिए किये जा रहे कार्यों पर प्रकाश डाला. उन्होंने कहा कि आमजनता के सहयोग से सामाजिक कुरीति को समाप्त किया जायेगा. शराबबंदी के साथ बाल विवाह व दहेज प्रथा की कुरीतियों पर प्रहार के लिए मंच से सीएम ने जनता में जोश भरा. साथ ही जन सहभागिता का आह्वान किया. शराबबंदी लागू है, लेकिन चोरी-छुपे अभी चंद लोग इस गोरखधंधे में लिप्त हैं. इन पर पुलिस प्रशासन की भी नजर है. ऐसे लोगों पर कड़ी कार्रवाई होगी.

महिलाओं को मिला बराबरी का अधिकार

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि महिलाओं को कई अधिकार मिले हैं. नौकरी से लेकर पंचायत व नगरपालिका चुनाव में महिलाओं को आरक्षण दिये गये हैं. आठ लाख स्वयं सहायता समूह का गठन किया गया है. दो लाख और ग्रुप का गठन किया जायेगा. उन्होंने कहा कि महिलाएं जागरूक हो रही हैं. महिलाओं के जागरूक होने के कारण इनके घरों की आमदनी बढ़ने से खुशहाली आयी है. सीएम ने बाल विवाह की चर्चा करते हुए कहा कि इसके कारण कम उम्र में गर्भ धारण करने से बेटियों के स्वास्थ्य पर खतरा भी पांच गुना बढ़ जाता है. दहेज प्रथा भी बाल विवाह से जुड़ा है. लोग अपनी बेटियों की शादी कम उम्र में कर देते हैं कि बड़ी होने पर अधिक दहेज देना पड़ेगा. जब दहेज ही समाप्त हो जायेगा तो ऐसा करने की जरूरत नहीं पड़ेगी. सीएम ने कहा कि जिस तरह शराबबंदी सफल हुई है, उसी तरह दहेज प्रथा व बाल विवाह भी समाप्त हो जायेगा. बस आप लोग एक बार संकल्प ले लीजिए कि इस सामाजिक बुराई को मिटा कर रहेंगे. सरकार आपके साथ है. बिहार पूरे देश में नजीर बनेगा सोनवर्षा में शिलान्यास के बाद नीतीश ने कहा कि सात निश्चय योजना के बाद अब टोला संपर्क निश्चय योजना को श

महिलाओं को मिला बराबरी का अधिकार

इस योजना का पूरा सर्वे डिजिटल कंसेप्ट के आधार पर हुआ था. संभवत: पूरे देश में पहली बार सड़क निर्माण की किसी योजना का पूरा सर्वे ऑनलाइन हुआ है. इस योजना के तहत पूरे राज्य में 12500 किलोमीटर सड़क का निर्माण होना है. योजना पर काम भी शुरू हो गया है. राज्य के सभी बसावटों को बारहमासी सड़क से जोड़ने की राज्य सरकार की महत्वाकांक्षी व सात निश्चयों में शामिल योजना है. जल्द ही सड़क का निर्माण कार्य भी शुरू करने की योजना है. इस योजना का पूरा सर्वे ऑनलाइन हुआ था और डिजिटल इंडिया के कंसेप्ट का पूरा ख्याल रखा गया है. राज्य सरकार ने जब राज्य की सभी बसावटों को बारहमासी सड़क से जोड़ने की योजना बनायी, तो सड़क निर्माण के लिए सड़क से छूटे संबंधित बसावटों का सेटेलाइट से सर्वे हुआ. सर्वे के बाद ग्रामीण कार्य विभाग के अभियंता स्पाट पर जाकर एप्प के जरिये लिंक रोड की लंबाई,बसावट की जनसंख्या, जमीन की उपलब्धता आदि की जानकारी लेगी.