Yo Diary

Offer Price 98/-

65 की उम्र में केरल से बिहार आकर ली डिग्री

पटना :चाणक्य नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी में शनिवार को संपन्न हुए तीसरे दीक्षांत समारोह में उस वक्त सब चौंक गये जब केसी सुरेश को 65 साल की उम्र में डी फिल की डिग्री प्रदान की गयी. केरल जैसे उच्च साक्षर राज्य से बिहार आकर डिग्री हासिल करना सबको चौंका गया. सुरेश ने सीएनएलयू के रजिस्ट्रार डॉक्टर एसपी सिंह की देखरेख में करप्शन फ्री सोसाइटी ह्यूमन राइट्स प्रोस्पेक्टिव : ए स्टडी बेस्ड ऑन राइट टू इंफॉर्मेशन एक्ट विषय पर अपने रिसर्च काे तैयार किया.

बिहार ने किया आकर्षित

एकेडमिक शौक रखने वाले केसी सुरेश ने प्रभात खबर के साथ विशेष बातचीत में बताया कि पढ़ने का जज्बा शुरू से ही था. वह केरल सरकार के बिजनेस विभाग में सरकारी नौकरी में कार्यरत थे. लेकिन समयाभाव के कारण वह स्टडी नहीं कर पाते थे. हालांकि उनके पास पहले से लॉ की डिग्री भी थी. उन्होंने बताया कि सरकार में सेवारत होने के दौरान बिहार ने किया... उनका समय बिजनेस मामलों के निबटारे में ज्यादा गुजरता था और इसके लिए वह वकीलों के बीच में रहते थे. इसी दौरान इनकी इच्छा पुन: बलवती हुई और इन्होंने डी फिल डिग्री हासिल करने के लिए सोचा. वह यह भी कहते हैं, जॉब में था लेकिन कुछ आर्थिक तंगी भी थी. इसलिए मैंने रिटारयमेंट के बाद इस डिग्री को हासिल करने के बारे में सोचा. सीएनएलयू लगा सबसे बेस्ट

यह पूछने पर कि देश में और भी लॉ यूनिवर्सिटी हैं, आपने चाणक्य नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी को क्यों चुना? सुरेश कहते हैं, नामांकन लेने के पूर्व मैंने देश के कई संस्थानों के बारे में जानकारी लेनी शुरू की. इसमें सीएनएलयू भी शामिल था. फिर मैंने और सर्च शुरू किया और संस्थान के बारे में कई तरह की रोचक जानकारियां हासिल हुईं. पीएचडी डिग्री के खासियत के बारे में जानकारी सीएनएलयू लगा सबसे... मिली. तब मैंने यहां नामांकन ले लिया. केसी सुरेश के बारे में बताते हुए उनके प्रोफेसर व विवि के रजिस्ट्रार डॉक्टर एसपी सिंह ने बताया कि इन्होंने अपने हर रिपोर्ट को बिलकुल सही वक्त पर जमा किया. पूरी स्टडी के दौरान इनका रिकॉर्ड काफी बेहतर रहा है.