Yo Diary

Offer Price 98/-

बदमाशों ने दंपति को दौड़ा-दौड़ा कर मारा

पटना/बिहटा : बिहटा के खेदलपुर के महावीर नगर मुहल्ले में व्यवसायी दंपति सुनील सोनी (40 वर्ष) व अनिता देवी उर्फ जूली (36 वर्ष) की हत्या की वारदात को अहले सुबह ही अंजाम दिया गया है. उनके घर के अंदर कई जगहों पर खून के निशान मिले हैं. इससे यह प्रतीत होता है कि अपराधियों व सुनील सोनी के बीच जमकर मारपीट हुई थी. यह भी हो सकता है कि सुनील अपराधियों से बच कर इधर-उधर भाग रहा हो और अपराधी उस पर खदेड़-खदेड़ कर प्रहार कर रहे थे. इसके बाद पति-पत्नी की हत्या करने के बाद शव को बेड के नीचे छुपा दिया हो और फरार हो गये. दरवाजा खुला होने पर पड़ोसी अंदर गये और फिर हल्ला हुआ कि दोनों की हत्या हो गयी है. हालांकि आश्चर्य की बात यह है कि अपराधियों ने इतना तांडव मचाया और आसपास के पड़ाेसियों को इसकी भनक तक नहीं लगी. इसके साथ ही आपसी दुश्मनी में किसी परिचित द्वारा भी हत्या किये जाने की संभावना जतायी जा रही है.

अनुमान है कि अपराधी पांच-छह की संख्या में रहे होंगे. कमरे में रखा अलमारी का लॉक टूटा था और सारे सामान बिखरे पड़े थे. जिसके कारण यह संभावना जतायी जा रही है कि वहां लूट की भी घटना हुई है. पुलिस इस बिंदु से भी जांच कर रही है. हालांकि उस घर में वे दोनों ही रहते थे, जिसके कारण यह कोई बताने वाला नहीं है कि उस घर में क्या-क्या सामान रखा था और क्या-क्या गायब है. दूसरी ओर जानकारी मिलने पर तुरंत ही सिटी एसपी वेस्ट रवींद्र कुमार व अन्य पुलिस पदाधिकारी दल-बल के साथ पहुंच गये थे. इस घटना से बिहटा सुर्खियों में है. बिहटा हाल के दिनों में हमेशा किसी-न-किसी घटना को लेकर हमेशा चर्चा में रहा है.

बिहटा में कई थानाध्यक्ष बदल दिये गये पर अपराध पर नहीं लग सका है अंकुश, व्यापारियों में रोष पिछले साल अगस्त माह से अभी तक बिहटा में अपराधियों का तांडव चल रहा है. उस समय के तत्कालीन थाना प्रभारी को हटा कर कदमकुआं के थानाध्यक्ष रंजीत कुमार सिंह को वहां का थानाध्यक्ष बनाया गया. सिटी एसपी वेस्ट रवींद्र कुमार के नेतृत्व में पुलिस टीम ने लगातार बिहटा में कैंप किया. इस दौरान कई अपराधी पकड़े गये और कुछ दिनों के लिए बिहटा इलाका शांत रहा, लेकिन फिर से बिहटा में अपराधियों ने सिर उठाना शुरू कर दिया. वारदातों पर एक नजर

24 अगस्त, 2017 : महाकाल गैंग के सदस्यों ने बिहटा के भरे बाजार में ताबड़तोड़ फायरिंग कर दहशत मचायी. 16 सितंबर, 2017 : अपराधियों ने सिनेमा हॉल मालिक के अध्यक्ष निर्भय सिंह को गोलियों से भून दिया. 23 नवंबर, 2017 : दो लोगों पर फायरिंग. 27 नवंबर, 2017 : बिहटा स्टूडेंट पब्लिक स्कूल के निदेशक वीरेंद्र सिंह से रंगदारी मांगी. 11 दिसंबर, 2017 : मुर्गा व्यवसायी गुड्डू कुमार की हत्या. 13 दिसंबर, 2017 : केशरी दवा एजेंसी पर दिन दहाड़े जम कर गोलीबारी की थी, जिससे दहशत फैल गयी. À22 दिसंबर, 2017 : बाइक सवार अपराधियों ने सत्यानंद राय की हत्या कर दी. वाट्सएप से मांगी कई से रंगदारी 12 फरवरी, 2018 को गणपति इलेक्ट्रॉनिक्स के मालिक निशिकांत प्रसाद से वाट्सएप कॉलिंग के जरिये नौबतपुर के कुख्यात मनोज सिंह ने प्रतिमाह रंगदारी मांग कर एक बार फिर से बिहटा को सुर्खियों में ला दिया. गुलटेरा बाजार स्थित शिक्षा एकेडमी कोचिंग के निदेशक अविनाश कुमार से वाट्सएप पर कॉल कर बसौढ़ा के अमित कुमार के नाम से 5 लाख की रंगदारी मांगी गयी. वहीं, 13 फरवरी, 2018 को रविशंकर ज्वेलर्स के मालिक साहिल सोनी से कॉल कर बसौढ़