Yo Diary

Offer Price 98/-

दीघा में दुकानदार को सरेराह गोलियों से भूना

पटना : दीघा हाट में अपराधियों ने दिनदहाड़े बिल्डिंग मेटेरियल के दुकानदार रामवचन राय (46 वर्ष) को गोलियों से भून डाला. तीन बाइकों से अाये छह अपराधियों ने घटना को अंजाम दिया. कई राउंड फायरिंग से पूरा दीघा हाट थर्रा गया. घटना उस समय हुई जब राम वचन राय किसी काम से दुकान छोड़ कर हाट में निकले थे. दुकान से कुछ ही दूरी पर निहोरा पैलेस के पास अपराधियों ने उन्हें घेर लिया और ताबड़तोड़ गोलियां बरसा दीं. गोली लगने के बाद खून से लथपथ राम वचन सड़क पर ढेर हो गये.

अपराधी तुरंत बाइक से उतरे और उसे हिला-डुला कर देखा. जब कोई हरकत नहीं हुई, तो अपराधी फरार हो गये. घटना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस रामवचन को पीएमसीएच ले आयी जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया. घटना स्थल से दो खोखा बरामद हुआ है. पुलिस मामले की छानबीन कर रही है.

रामवचन की हत्या के पीछे हाल में हुए एक विवाद को माना जा रहा है. दरअसल पाटीपुल गली में कुख्यात अपराधी नाकट गोप का घर है. इन दिनों नाकट गोप बेऊर जेल में बंद है. नाकट गोप से रामवचन की पुरानी दुश्मनी है. इधर, होली के दिन नाकट गोप के बेटे सन्नी और रामवचन का विवाद हो गया था. इस दौरान कुछ लोगों ने मिल कर सन्नी की पिटाई भी कर दी थी. इस दौरान सन्नी 10 दिन के अंदर रामवचन को सबक सिखाने की धमकी देकर चला गया था.

यह बात जब जेल में बंद नाकट गोप को पता चली, तो वह भी पूरे गुस्से में आ गया. सूत्रों की मानें तो जेल से ही उसने रामवचन को फोन किया और बोला था कि तुमने हमारे बेटे को मारा है, बहुत जल्द तुम्हारी लाश निकलेगी. इधर इस दौरान भारी संख्या में लोग सड़क पर उतर गये और हंगामा करने लगे. हंगामे और आक्रोश को देखते हुए भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है. सन्नी की गिरफ्तारी के लिए दबिश शुरू रामवचन की हत्या के बाद जब पुलिस ने स्थानीय लोगों से बात की तो पता चला कि नाकट गोप का बेटा सन्नी ही अपने साथियों काे लेकर आया था. प्रत्यक्षदर्शियों ने सन्नी को मौके पर देखा भी है. यह भी कहा जा रहा है कि सन्नी ने ही रामवचन को गोली मारी है. पुलिस मामले की छानबीन में जुटी हुई है.

तीन बाइकों से आये थे छह अपराधी, गोली मार कर हुए फरार जेल में बंद कुख्यात नाकट गोप के बेटे से हुई थी झड़प अपराधी के बेटे ने 10 दिनों में सबक सिखाने की दी थी धमकी रामवचन को पिस्टल से मारी गयी हैं छह गोलियां हत्या के बाद रामवचन का पोस्टमार्टम कराया गया. इस दौरान पता चला कि रामवचन को सिर और पेट में कुल छह गोलियां मारी गयी हैं. चेहरे पर दो गोली मारी गयी है. एक कनपट्टी के पास और दूसरा जबड़े के पास. इसके बाद पेट में गोली मारी गयी. इतनी गोली मारने के बाद भी अपराधियों को यकीन नहीं हुआ तो हिलाकर देखा. घटना उस समय हुई जब रामवचन सड़क के किनारे बाइक लगाकर सब्जी खरीद रहा था. घटना को कई लोगों ने अपनी आंखों देखा है.

सीसीटीवी फुटेज खंगालने के बाद हुई पहचान:-पुलिस अपने मुंह से किसी का नाम नहीं ले रही है लेकिन इतना दावा जरुर कर रही है कि हत्या पुरानी रंजिश को लेकर ही हुई है. सीसीटीवी फुटेज के माध्यम से अपराधियों की पहचान कर ली गयी है. वह बाइक भी फुटेज में दिखा है जिससे अपराधी आये थे. सीधे तौर पर नाकट गोप के बेटे सन्नी का नाम आ रहा है. पुलिस ने बहुत जल्द अपराधियों की गिरफ्तारी करने का दावा किया है. पुलिस पर कार्रवाई नहीं करने का आरोप मृतक के घरवालों का कहना है कि होली के दिन हुए विवाद और धमकी मिलने के बाद उन लोगों ने पुलिस को पूरी जानकारी दी थी. लेकिन दीघा पुलिस ने इसे गंभीरता से नहीं लिया. न ही केस दर्ज किया और न ही नाकट गोप के बेटे पर शिकंजा ही कसा. इधर, अंदर ही अंदर आग सुलग रही थी. लिहाजा शनिवार को दिनदहाड़े घटना को अंजाम दिया गया. घटना के बाद आसपास के लोग पूरी तरह से आक्रोशित हो गये.