Yo Diary

Offer Price 98/-

तेजप्रताप का बड़ा एलान, अयोध्या में राम मंदिर हम ही बनायेंगे, बिहार से यूपी ले जायेंगे एक-एक ईट

पटना : बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री और लालू के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव लगातार चर्चा में बने रहते हैं. कभी अपने बयानों को लेकर, तो कभी बांसुरी और शंख बजाकर. तेजप्रताप सोशल मीडिया पर भी खासे सक्रिय हैं और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ विवादास्पद बयान देकर भी चर्चित रहे हैं. अब तेजप्रताप यादव ने अयोध्या में राम मंदिर बनाने की बात कहकर बिहार की राजनीति में भूचाल ला दिया है. तेजप्रताप यादव ने बिहार के नालंदा जिले में आयोजित एक कार्यक्रम में कहा कि राजद यदि बिहार में सत्ता आती है, तो वे राम मंदिर बनायेंगे.

तेजप्रताप यादव जिले के मघड़ा गांव स्थित मां शीतलाष्टमी मेले में राजद नेता अरुणेश यादव द्वारा आयोजित दंगल में भाग लेने पहुंचे थे. मौके पर मीडियाकर्मियों से तेज प्रताप यादव ने कहा कि मां शीतलाष्टमी मेले का अपना एक महत्व है. इसके पहले भी मैं यहां आ चुका हूं. वहीं, त्रिपुरा में बीजेपी सरकार बनने के सवालों पर तेज प्रताप यादव ने कहा कि त्रिपुरा में क्या हुआ और वहां किसकी सरकार बनी, इससे मुझे कोई लेना देना नहीं. बिहार के बारे में अगर मुझसे पूछा जाए तो मैं कुछ बताऊंगा भी.वहीं जहानाबाद, अररिया और भभुआ में हो रहे उपचुनाव के ऊपर भी चुटकी लेते हुए यादव ने कहा कि तीनों सीट पर राजद-कांग्रेस गठबंधन जीतेगी. यह बात हम नहीं बता रहे हैं, बल्कि बिहार की जनता बताने का काम कर रही है.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक इस नालंदा में तेजप्रताप यादव ने एक बड़ा बयान देते हुए कहा है कि अगर अगली बार बिहार में राजद की सरकार बनती है, तो देश में सभी धर्मों के साथ मिलकर बिहार से एक-एक ईट यूपी ले जाएंगे और राम मंदिर बनायेंगे. हालांकि, अपने ट्वीटर एकाउंट पर तेजप्रताप ने कहा है कि हमने बिहारशरीफ दंगल कार्यक्रम में ये कहा कि भाजपा वाले राम मंदिर बनाने की बात करते हैं, पर तारीख नहीं बतायेंगे. हमलोग मंदिर ऐसा बनायेंगे जहां हिंदू,मुस्लिम, सिख,ईसाई सब लोग जाकर पूजा करेगें, मानवता का मंदिर बनायेंगे तब भाजपा का मंदिर मुद्दा खत्म हो जायेगा.

जानकारी के मुताबिक इस कार्यक्रम में तेज प्रताप यादव ने शंखनाद किया और बांसुरी भी बजायी. दगंल देखने के लिए हजारों लोग वहां मौजूद थे. इसी दौरान तेज प्रताप ने कहा कि भाजपा देश में राम मंदिर बनाने के नाम पर लोगों का वोट लेती है, लेकिन राम मंदिर बनाने से पीछे भाग जाती है. मीडिया में चल रही खबरों के मुताबिक तेज प्रताप ने कहा कि इस बार ऐसा नहीं होगा और देश के सभी लोगों को साथ लेकर वह बिहार से ईट ले जायेंगे और यूपी के अयोध्या में राम मंदिर बनायेंगे.