Yo Diary

Offer Price 98/-

बिहार बजट पर सियासी प्रतिक्रियाएं : किसी ने सराहा, तो कोई बोला- हुई निराशा

पटना :.बिहार के वित्त मंत्री सुशील कुमार मोदी ने मंगलवार को विधानसभा में नीतीश सरकार का बजट पेश किया. बिहार सरकार की ओर से पेश किये गये बजट को लेकर राजनीतिक पार्टियों ने अलग-अलग प्रतिक्रियाएं दी है. भाजपा ने जहां इस बजट का स्वागत करते हुए सराहना की है. वहीं राजद और कांग्रेस ने इसकी निंदा की है.

नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव बोले...

सुशील मोदी द्वारा आज पेश किये बजट पर प्रतिक्रिया देते हुए तेजस्वी यादव ने कहा, हमलोगों को बजट से काफी उम्मीदें थी. बिहार के विकास के बगैर देश का तरक्की नहीं हो सकता है. बिहार को विशेष राज्य का दर्जा दिये जाने के बारे में बजट में कोई जिक्र नहीं किया गया है.

केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा ने कहा...

उपेंद्र कुशवाहा ने अपनी प्रतिक्रिया में कहा, बिहार सरकार द्वारा प्रस्तुत बजट काफी सराहनीय है. इसमें शिक्षा, रोजगार सृजन एवं कृषकों के विकास को बल मिलेगा.

राजद नेता कमरे आलम बोले...

बिहार का बजट आम जनता और बिहार की प्रगति के खिलाफ है. इवेंट मैनेंटमेंट की तरह बजट पेश किया गया.

राजद नेता कमरे आलम बोले...

पूर्व वित्त मंत्री अब्दुल बारी सिद्दीकी ने बजट पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा, चोर दरवाजे से वित्त मंत्री सुशील मोदी ने बजट पेश किया. उन्होंने कहा, जनता द्वारा चुने गये वित्त मंत्री तो हम हीं थे. पूर्व वित्त मंत्री ने कहा, नीतीश सरकार ने अल्पसंख्यक कल्याण का बजट घटा दिया है. जो भाजपा की विचारधारा का परिचायक है.

कांग्रेस नेता एवं पूर्व मंत्री मदन मोहन झा बोले...:-कांग्रेस नेता मदन मोहन झा ने बजट पर अपनी प्रतिक्रिया में कहा, सिर्फ शिक्षा बजट बढ़ाने से काम नहीं चलेगा. शिक्षा में व्यापक सुधार की जरूरत है. हमलोग इस बजट से नाखुश हैं. बिहार की जनता के अनुरूप ये बजट नहीं है.