Yo Diary

Offer Price 98/-

राज्यसभा के लिए प्रत्याशी चयन को ले जदयू में मंथन, अंतिम समय में होगी घोषणा

पटना [एसए शाद]।राज्यसभा चुनाव के लिए प्रत्याशी चयन को लेकर जदयू में मंथन शुरू है। पार्टी के लिए यह काम इस बार आसान नहीं है। राज्यसभा में 2 अप्रैल को जो 58 सीटें खाली हो रहीं हैं, उनमें छह बिहार का प्रतिनिधित्व करते हैं। इन छह सीटों में से चार जदयू के खाते में थीं, परन्तु इस बार मात्र दो को ही पार्टी बिहार से राज्यसभा भेज पाएगी। संख्या आधी घट जाने के कारण प्रत्याशी के चयन में दिक्कत आना स्वाभाविक है।

पार्टी के जो दो राज्यसभा सदस्य रिटायर हो रहे हैं, उनमें से दो अगड़ी एवं दो पिछड़ी जाति से हैं। पार्टी ने पिछली बार जातीय संतुलन बनाने का पूरा प्रयास किया था। चर्चा है कि इस बार दो में से एक पर प्रत्याशी लगभग तय है। पार्टी की बिहार इकाई के सबसे वरिष्ठ नेता को पार्टी दोबारा राज्यसभा भेजने का प्रयास करेगी। उनका चयन फाइनल रहने के पीछे यह तर्क दिया जा रहा है कि आम चुनाव में अब अधिक समय नहीं है और पार्टी के यह नेता पिछले कई सालों से पार्टी संगठन के छोटे से बड़े कामों से वाकिफ हैं।

वैसे, पार्टी अगर इन्हें प्रत्याशी बनाती है तो फिर दूसरे प्रत्याशी का चयन दिलचस्प होगा। रेस में कई दिग्गज शामिल हैं। इनमें से एक को तो 2016 में ही बड़ी उम्मीदें थीं जब पार्टी ने दो को राज्यसभा भेजा था। इन दिग्गजों के हिस्से में तब मायूसी आ सकती है जब पार्टी को सामाजिक संतुलन का ख्याल आएगा। आम चुनाव नजदीक रहने के कारण पार्टी के लिए यह पक्ष भी महत्वपूर्ण है।

किसकी सीटें हो रहीं खालीं

नाम पार्टी धर्मेंद्र प्रधान भाजपा रविशंकर प्रसाद भाजपा महेंद्र प्रसाद जदयू वशिष्ठ नारायण सिंह जदयू अनिल सहनी जदयू अली अनवर जदयू

किसकी सीटें हो रहीं खालीं

पार्टी संख्या राजद 2 भाजपा 1 जदयू 2 कांग्रेस 1