Yo Diary

Offer Price 98/-

पटना विश्‍वविद्यालय में अंग्रेजी में प्रश्न पूछने पर प्री-पीएचडी अभ्यर्थियों ने किया हंगामा

पटना [जेएनएन]। पटना विश्वविद्यालय पीएचडी एंट्रेंस टेस्ट (पैट) में शनिवार अंग्रेजी में प्रश्न पत्र होने पर अभ्यर्थियों ने जमकर हंगामा किया। विस्कोमान भवन स्थित नालंदा ओपेन यूनिवर्सिटी में मास कम्युनिकेशन के परीक्षार्थियों का सेंटर था।

अभ्यर्थी सुधीर शर्मा, प्रेम कुमार, प्रशांत कुमार, विकास कुमार आदि ने बताया कि नियमानुसार प्रश्न पत्र हिंदी और अंग्रेजी दोनों भाषा में होनी चाहिए। जब इसकी जानकारी केंद्राधीक्षक के माध्यम से परीक्षा नियंत्रक को दी गई तो उन्होंने कहा कि पीएचडी करोगे और अंग्रेजी नहीं आती है। इसके बाद सभी परीक्षा का बहिष्कार कर हंगामा करने लगे।

आधे घंटे बाद हिंदी में प्रश्न पत्र तैयार कर फोटो कॉपी लाया गया। तब तक परीक्षार्थी परीक्षा का बहिष्कार कर चुके थे। हंगामा कर रहे अभ्यर्थियों ने अटेंडेंसशीट भी फाड़ दिया। पुलिस प्रशासन के हस्तक्षेप और दोबारा परीक्षा कराने के आश्वासन के बाद परीक्षार्थी शांत हुए।

पैट की पहली पाली सभी सेंटर पर शांतिपूर्ण संपन्न हुई। दूसरी पाली में केवल पत्रकारिता के परीक्षार्थियों ने बहिष्कार किया। पटना साइंस कॉलेज, पटना कॉलेज, मगध महिला तथा एनआयू केंद्र पर पहली पाली में 2362 और दूसरी पाली में 2300 परीक्षार्थी शामिल हुए। जबकि 2838 अभ्यर्थियों ने आवेदन किया था। परीक्षा नियंत्रक प्रो. आरके मंडल ने बताया कि प्रश्न-पत्र अंगरेजी में आने के कारण पत्रकारिता के कुछ अभ्यर्थी परीक्षा में शामिल नहीं हुए। घटनाक्रम से कुलपति को अवगत करा दिया गया है।